हनुमान जयंती : घर में रहकर ऐसे करें पूजा मिलेगी शनि की साढ़ेसाती ओर मंगल के कुप्रभाव से राहत

कोरोना लॉक डाउन के चलते हनुमान जी के मंदिरों में भक्त दर्शन के लिए नहीं जा सकेंगे , घर पर ही विधि विधान के साथ ऐसे करें पूजा

By: Suraksha Rajora

Published: 07 Apr 2020, 07:58 PM IST

कोटा . चैत्र मास की पूर्णिमा तिथि को बुधवार हनुमान प्राकट्योत्सव मनाया जाएगा। मंगलवार दोपहर 12:2 से पूर्णिमा तिथि शुरू हुई है जो बुधवार सुबह 8:5 बजे तक रहेगी। त्रेता युग में चैत्र मास की पूर्णिमा पर श्रीराम के परम भक्त हनुमानजी का जन्म हुआ था। इस बार कोरोना वायरस के चलते हनुमान जी के मंदिरों में भक्त दर्शन के लिए नहीं जा पायेंगे। तो ऐसे में आपको घर पर ही विधि विधान के साथ पूजा करनी होगी।

ज्योतिषाचार्य अमित जैन ने बताया कि इस बार शनि स्व राशि मकर पर होंगे। और मंगल भी उच्च राशि मकर पर रहेंगे। जो हनुमान जी की पूजा पाठ से अभीष्ट सिद्धि पा सकता है। इस समय शनि की साढ़ेसाती ओर मंगल के कुप्रभाव से बचने के लिए हनुमानजी की पूजा करे। आप घर पर ही उत्तर दिशा की ओर मुख करके हनुमान उपासना करें इस दिन राम धुन, सुन्दरकाण्ड, हनुमान चालीसा,साठिका,संकटमोचन, बजरंग बाण का पाठ, विधिवत पूजा करने से सभी मनोकामनाओं की पूर्ति होती है। ओर विजय श्री मिलती है।

हनुमान चालीसा के पाठ से होगी मनोकामना पूरी

ज्योतिषाचार्य अमित जैन कहते हैं कि जो भी हनुमान चालीसा का पाठ करता है उसकी हर मनोकामना पूरी होती है। आज के दिन आप घर पर ही घी,या चमेली के तेल का दीपक प्रज्वलित करके


11 पाठ हनुमान चालीसा के करे
हनुमान चालीसा की हर चौपाई का अपना महत्व है। कहा जाता है कि इसके पाठ के चमत्कारी प्रभाव सामने आते हैं। चालीसा के हर लाइन सेहत, धन और सुख-समृद्धि प्रदान करती है।

हनुमान जंयती पर इन पांच मीठे पदार्थो का लगाये भोग-

1- केसरिया बूंदी लड्‍डू- इसका भोग लगाने से व्यक्ति धन संबंधित समस्याएं दूर हो जाती है।

2- बेसन के लड्डू- इसका भोग लगाने से कार्यों में आने वाली रूकावटे खत्म हो जाती है।

3- रसीली इमरती- इसका भोग लगाने से व्यक्ति को जीवन में अच्छे लोगों का साथ औऱ सहयोग मिलता है।

4- मालपुआ- इसका भोग लगाने से रोजगार संबंधित समस्याओं का हल मिलने लगता है।

5- मलाई-मिश्री के लड्‍डू- इसका भोग लगाने से विवाह एवं पारिवारिक सुखों में आने वाली बाधाएं दूर हो जाती है।

Show More
Suraksha Rajora Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned