Weather News : हाड़ौती में झमाझम, मौसम खुशनुमा

कोटा-श्योपुर मार्ग बहाल

By: shailendra tiwari

Published: 20 Sep 2021, 07:09 PM IST

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. हाड़ौती अंचल में सोमवार को भी झमाझम बारिश का दौर जारी रहा। कोटा, बारां, बूंदी व झालावाड़ जिले में अच्छी बारिश हुई। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली। मौसम खुशनुमा हो गया।


कोटा में दोपहर 1 बजे से 2 बजे तक छावनी, गुमानपुरा, कोटड़ी, नयापुरा समेत अन्य क्षेत्रों में कभी रिमझिम तो कभी झमाझम बारिश हुई। सड़कों पर पानी बह निकला। मौसम विभाग के अनुसार, सुबह 8.30 से शाम 5.30 बजे तक 1.4 एमएम बारिश दर्ज की गई। बीते 24 घंटे में 5.7 एमएम बारिश दर्ज की गई। जिले के खातौली में पार्वती नदी में पानी की आवक कम होने से कोटा-श्योपुर मार्ग बहाल हो गया।

कस्बे सहित क्षेत्र में सुबह से दोपहर बाद तक रिमझिम बरसात होती रही। वहीं, कोटा बैराज से एक गेट दो फीट खोलकर 25 हजार क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है।

झालावाड़ में सोमवार दोपहर 12.30 बजे आधा घंटे जोरदार बारिश हुई। इसके अलावा झालरापाटन, अकलेरा, असनावर, बकानी, रायपुर, पिड़ावा, सुनेल, पचपहाड़, डग, गंगधार में अच्छी बारिश हुई। तीसरे दिन आवर-पगारिया मार्ग बंद रहा। वहीं, कालीसिंध बांध के 2 गेट खोलकर 16907 क्यूसेक, छापी बांध के 2 गेट खोलकर 2872 क्यूसेक, भीमसागर बांध का एक गेट खोलकर 1671 क्यूसेक, राजगढ़ बांध का एक गेट खोलकर 679 क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है।

छबड़ा में हुई तेज बरसात
बारां जिले में बारिश हुई। सर्वाधिक 9 मिमी बारिश छबड़ा उपखंड मुख्यालय पर दर्ज की गई। बारां में 4, अन्ता में 5, शाहाबाद में 2, किशनगंज उपखंड मुख्यालय पर 3 मिमी बारिश दर्ज की गई। जिले में गत एक जून से रविवार शाम 5 बजे तक 1156 मिमी बारिश दर्ज की जा चुकी है।

बरसात का दौर जारी
बूंदी शहर में सुबह 11 बजे आधे घंटे हल्की बारिश हुई। वहीं इन्द्रगढ़ क्षेत्र में तेज बारिश हुई। मेज नदी भण्डेड़ा क्षेत्र में बांसी-कालानला मार्ग पर हनुमान मन्दिर के निकट मेज नदी की पुलिया पर सोमवार को भी पानी की आवक बनी रहने से मार्ग दिनभर बंद रहा। शाम पांच बजे तक बूंदी में 3, तालेड़ा में 3, इन्द्रगढ़ में 30 एमएम बारिश दर्ज की गई।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned