Holi Celebration: होली पर इनको मत छूना, गजब हो जाएगा !

Suraksha Rajora

Publish: Mar, 17 2019 04:35:38 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. होली पर्व के साथ मार्केट भी होली के रंग में रंगने को तैयार है। रंगों के बिना होली का मजा अधूरा होता है लेकिन ये रंग आपके जीवन को बदरंग न कर दें। ऐसे में इस बार शहर के व्यापारी हर्बल गुलाल को ज्यादा महत्व दे रहे हैं। जी हां, इस होली में आपके मन पसंद फ्रूट्स कलर मार्केट में छाएं हैं , जिनमें ऑरेंज, बनाना, एप्पल व कई फ्रूट्स कलर के प्राकृतिक रंगो से होली का मजा दोगुना होगा। इस बार शहरवासियों का रुख पक्के रंगों के बजाय आर्गेनिक हर्बल कलर और प्योर गुलाल की ओर ज्यादा है। यही कारण है कि इस बार लोगों की डिमांड पर मार्केट में भी हर्बल खुशबूदार कलरफुल गुलाल ज्यादा आए हैं।

 

मैजिक कलर्स और फेस वॉश


मार्केट में ऐसे लोगों के लिए भी प्रोडक्ट्स हैं, जो होली में कलर को लेकर कॉन्शस रहते हैं। बाजार में १० डिफरेंट शेड्स में ऐसे मैजिक कलर्स अवेलेबल हैं जो लगने के दो मिनट बाद गायब हो जाते हैं। जिन लोगों को कलर उतारने में प्रॉब्लम आती है। उनके लिए मार्केट में फेश वॉश भी है जो खुशबूदार है। दुकान संचालक कमल बताते हैं कि इस बार होली पर डिफरेंट पिचकारियों के साथ कई कलर्स आए हैं। खासतौर पर लोगों में हर्बल गुलाल व ऐसे कलर्स की डिमांड है जिनका साइड इफेक्ट ना हो।


पिचकारी के लिए अच्छे मॉक्र्स का प्रलोभन-


बच्चों ने होली खेलने के लिए पिचकारियों की डिमांड अभी से ही शुरू कर दी है। बच्चों की जिद को लेकर
पैरेंट्स भी अब एग्जाम में अच्छे माक्र्स लाने के लिए बच्चों को प्रलोभन दे रहे हैं। दादाबाड़ी निवासी कनक गुप्ता का कहना है कि हर बार होली पर बच्चों को नई पिचकारी की डिमांड रहती है। बच्चे पहले से ही शॉप पर जाकर पूछने लगे हैं कि इस बार नया क्या है और वही डिमांड हमें पूरी करनी होती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned