उद्योग व होटल के 500 करोड़ के निवेश के प्रस्तावों को मिलेगी हरी झण्डी

हाड़ौती कोटा स्टोन इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन की बैठक में हुई चर्चा,लोकसभा अध्यक्ष के प्रयासों की उद्यमियों ने की सराहना

कोटा। मुकुंदरा टाइगर रिजर्व में सेन्सेटिव जोन का दायरा दस किमी से घटाकर एक किमी करने से उद्योग व होटलों के लम्बित चल रहे करीब पांच करोड़ के निवेशके प्रस्तावों को मंजूरी मिलने की संभावना है। पिछले दिनों उद्योग मंत्री ने कोटा के उद्यमियों से संवाद किया था, इसमें एक सरिया निर्माता ने 100 करोड़ का उद्योग लगाने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन इस जोन में आने के कारण वन विभाग एनओसी जारी नहीं कर रहा था, अब इस प्रस्ताव को भी मंजरी मिल सकेगी। साथ आधा दर्जन हाूेटल बनाने के प्रस्ताव है। साथ ही खानों में पुन: उत्पादन शुरू हो सकेगा। यह कोटा की अर्थव्यवस्था के लिए मजबूती का काम करेगा।

घर की रसोई में घुस गई 'डायन' बिगड़ गया खाने का स्वाद

केन्द्र सरकार की ओर से इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी करने के बाद उद्यमी उत्साहित है। इसका फायदा कोटा, झालावाड़ और बूंदी तक के उद्यमियों व निवेशकों को मिलेगा। हाड़ौती कोटा स्टोन इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन की ओर से इन्द्रप्रस्थ औद्योगिक क्षेत्र में पाषाण भवन में आयोजित बैठक में इस निर्णय के फायदे पर चर्चा की गई। कोटा व्यापार महासंघ के महासचिव अशोक माहेश्वरी ने कहा कि यह निर्णय हाड़ौती के लिए वरदान साबित होगा। इससे नए निवेश की राह खुलेगी। निवेश के लम्बित प्रस्तावों को गति मिल सकेगी। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयासों की सराहना की। आगामी दो माह में बंद खानों में भी उत्पादन शुरू हो जाएगा।

9 टन का कानून थोपने से उद्यमी परेशान

हाडौती कोटा स्टोन इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष आर.एन गर्ग एवं महासचिव रोहित सूद ने पत्थर के लदान पर नौ टन का कानून थोपने पर विरोध जताया। इससे कोटा व सेण्ड स्टोन का परिवहन प्रभावित हो रहा है। कोषाध्यक्ष हरीश प्रजापति, संस्थापक अध्यक्ष राजेश गुप्ता, वरिष्ठ उपाध्यक्ष भगवान न्याती, उपाध्यक्ष पदम जैन, रोहित सेठी, गोविन्द अग्रवाल, पूर्व अध्यक्ष देवेन्द्र जैन, कोषाध्यक्ष हरिश प्रजापति मौजूद थे। बैठक में अशोक माहेश्वरी व नवनिर्वाचित कोषाध्यक्ष राजेन्द्र जैन का माला पहना, साफ ा एवं शाल उढाकर अभिनन्दन किया गया।

Ranjeet singh solanki Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned