मैं पटरी हूं... मौत के लिए नहीं, ट्रेन चलने के लिए बनी हूं

लॉयंस क्लब कोटा नोर्थ व रेलवे सुरक्षा बल डकनिया के सहयोग से शुक्रवार को डकनिया रेलवे स्टेशन पर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से रेलवे नियमों का पालन करने का संदेश दिया गया।

कोटा. लॉयंस क्लब कोटा नोर्थ व रेलवे सुरक्षा बल डकनिया के सहयोग से शुक्रवार को डकनिया रेलवे स्टेशन पर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से रेलवे नियमों का पालन करने का संदेश दिया गया।
चेयरमैन वरूण रस्सेवट ने बताया कि कोटा स्कूल ऑफ ड्रामा के कलाकारों ने 'मैं पटरी हूंÓ नुक्कड़ नाटक का मंचन कर स्टेशन पर उपस्थित यात्रियों को रेलवे नियमों का पालन करने के लिए जागरूक किया। नुक्कड़ नाटक में पटरी ने रो-रो कर अपनी पीड़ा सुनाई। उसने कहा कि मैं पटरी हूॅ, लोगों को उनकी मंजिल तक पहुचाती हूॅ, मैं मौत के लिए नहीं, ट्रेन चलने के लिए बनी हूं फिर भी लोग अपनी नासमझी में जल्दबाजी में मुझे पार करने की कोशिश करते है और काल के गर्त में समा जाते है।

पशुपति नाथ नहीं जा सकते तो यहां आइए ,मिलेंगे सैकड़ो 'भोलेनाथ'


मुख्य अतिथि यातायात डिप्टी नारायण लाल विश्नोई ने यात्रियों को बताया कि ट्रेन में सफर करने के लिए घर से समय पर निकले, पटरी पार नहीं करे और भागकर ट्रेन नहीं पकड़े। इस दौरान स्टेशन अधीक्षक आरसी मीना, रेलवे सुरक्षा बल चौकी के सहायक उप निरीक्षक विनोद शर्मा ने भी यात्रियों को रेलवे नियमों की जानकारी दी।

Show More
Habulal Prakash Sharma Photographer
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned