Bribe case : घूस के लिए 22 माह से रोक रखा था वेतन

झालावाड़ . भवानीमंडी. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो झालावाड़ की टीम ने गुरुवार को कार्रवाई कर नगर पालिका के जमादार को बकाया वेतन का भुगतान करवाने एवं स्थायीकरण के एवज में एक लाख पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया। कार्रवाई की भनक लगने के कारण पालिका ईओ, कनिष्ठ अभियंता समेत अन्य जमादार फरार है। एसीबी ने तीनों को भी आरोपी बनाया है।

By: Deepak Sharma

Published: 20 May 2021, 08:29 PM IST

झालावाड़ . भवानीमंडी. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो झालावाड़ की टीम ने गुरुवार को कार्रवाई कर नगर पालिका के जमादार को बकाया वेतन का भुगतान करवाने एवं स्थायीकरण के एवज में एक लाख पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया। कार्रवाई की भनक लगने के कारण पालिका ईओ, कनिष्ठ अभियंता समेत अन्य जमादार फरार है। एसीबी ने तीनों को भी आरोपी बनाया है।

एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानी शंकर मीणा ने बताया कि भवानीमंडी रामनगर निवासी नगर पालिका सफाई कर्मचारी लखन बैरागी ने 29 अप्रेल को परिवाद दिया था कि उसे पालिका में नियमित ड्यूटी देने एवं संबंधित कार्यालयों के लिए उपस्थिति प्रमाण पत्र देने के बावजूद 22 माह के वेतन का भुगतान जानबूझकर अनुपस्थित बताकर नहीं किया गया। साथ ही नोटिस देकर उसे स्थायीकरण से वंचित रखने के लिए कहते हुए उससे बकाया वेतन का भुगतान करने एवं स्थायीकरण करने के एवज में जमादार सुरेश मिरोलिया के मार्फत पालिका ईओ राधेश्याम छीपा, कनिष्ठ अभियंता देवमित्र एवं अन्य जमादार अर्जुन तंवर ने ढाई लाख रुपए रिश्वत की मांग की।

एसीबी की टीम ने परिवादी की शिकायत का सत्यापन करने के बाद गुरुवार सुबह 11 बजे रेलवे स्टेशन चौराहे पर जमादार सुरेश मिरोलिया को रिश्वत की प्रथम किस्त के रूप में एक लाख 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया।

फरार आरोपियों की तलाश में जुटी एसीबी
जमादार के ट्रेप होने की भनक लगने पर अन्य तीन आरोपी ईओ छीपा, कनिष्ठ अभियंता देवमित्र एवं जमादार अर्जुन तंवर फरार हो गए। तीनों आरोपी की तलाश को लेकर एसीबी ने स्थानीय पुलिस की मदद से आरोपियों के घर पर दबिश दी, लेकिन वे हाथ नहीं आए।

ईओ व जेईएन कार्यालय सीज

एसीबी ने ईओ के आवास एवं कनिष्ठ अभियंता के ऑफिस को सीज कर दिया है। पालिका कर्मचारियों को दोनों के पालिका आने पर एसीबी को सूचना देने के लिए कहा गया है।

Show More
Deepak Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned