एडवांस्ड 2021 का पेपर पिछले वर्ष की तुलना में कुछ आसान था। फिजिक्स व कैमिस्ट्री का पेपर ओवरऑल आसान और आईआईटी के स्तर का रहा। जबकि मैथ्स का पेपर ज्यादा लेन्दी और प्रश्नों की भाषा काफी उलझाने वाली रही। कुछ विद्यार्थियों ने पेपर का पैटर्न वर्ष 2018 जैसा भी बताया लेकिन, प्रश्नों को पूछने का तरीका अलग था। पेपर लैंदी होने से विद्यार्थियों को समय काफी लगा। जिस विद्यार्थी ने अलग-अलग डिफीकल्टी लेवल के पेपरों को सॉल्व करने का अभ्यास किया होगा, सालभर एडवांस तैयारी की होगी, उन विद्यार्थियों के लिए पेपर हल करना थोड़ा आसान हो सकता है।
जेईई एडवांस्ड 2021 के पेपर में पहली बार न्यूमेरिकल टाइप प्रश्न पैरेग्राफ में पूछे गए। प्रत्येक न्यूमेरिकल प्रश्न 2 अंक का था। नेगेटिव मार्किंग नहीं थी। जबकि इंटीजर प्रश्नों को नॉन नेगेटिव इंटीजर प्रश्नों के रूप में पूछा गया। जोकि प्रत्येक 4 अंक का था। शेष प्रश्न सिंगल करेक्ट, मल्टीपल करेक्ट व पैरेग्राफ पैटर्न पर आधारित रहे। पेपर 1 और पेपर 2 में कुल 57-57 प्रश्न यानी फिजिक्स, मैथ्स और कैमिस्ट्री में 19-19 प्रश्न आए। पेपर 1 और पेपर 2 कुल 360 अंकों का था। प्रत्येक विषय को चार अलग-अलग भागों, ए, बी, सी, डी में विभाजित किया गया था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned