JEE-Advanced @ निर्धारित 2.45 लाख से हजारों अधिक स्टूडेंट्स को मिल सकता है मौका

जेईई-मेन परीक्षा के एनटीए स्कोर के आधार पर चयनित होने वाले शीर्ष 2 लाख 45 हजार विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस्ड देने का मौका मिलेगा...

By: Suraksha Rajora

Published: 04 Apr 2019, 08:20 PM IST

 

कोटा. देश की सबसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-एडवांस्ड जिसके माध्यम से 23 आईआईटी की 11279 पर प्रवेश मिलता है, जो कि इस वर्ष 27 मई को संपन्न होने जा रही है। वर्ष में दो बार हो रही जेईई-मेन परीक्षा के एनटीए स्कोर के आधार पर चयनित होने वाले शीर्ष 2 लाख 45 हजार विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस्ड देने का मौका मिलेगा, जिसमें सामान्य श्रेणी के 113925, सामान्य ईडब्ल्यूएस श्रेणी के 9800, ओबीसी के 66150, एससी के 36750, एसटी के 18375 स्टूडेंट्स शामिल हैं।

 

जेईई-एडवांस्ड द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार यदि ट्रेंड देखें तो जेईई-मेन के आधार पर जेईई-एडवांस्ड की पात्रता के लिए वर्ष 2018 में 2.24 लाख के मुकाबले 231024 स्टूडेंट्स एवं वर्ष 2017 में 220000 के मुकाबले 221834 स्टूडेंट्स क्वालीफाई किए गए। क्वालीफाई किए गए विद्यार्थियों की संख्या बढ़ने का प्रमुख कारण उस निर्धारित कैटेगिरी में जारी की गई मिनिमम कटआॅफ पर ज्यादा बच्चों का क्वालीफाई होना है।

 

इसी वजह से प्रत्येक कैटेगिरी में जारी की गई कटऑफ पर कई हजारों ज्यादा स्टूडेंट्स क्वालीफाई हो रहे हैं। इसी ट्रेंड को देखते हुए इस वर्ष भी यह अनुमान लगाया जा रहा है कि 2.45 लाख स्टूडेंट्स के मुकाबले कई हजारों अधिक स्टूडेंट्स को जेईई-एडवांस्ड देने का मौका मिलेगा।


गत वर्ष ये रही थी कटआफ


यदि पिछले दो वर्षों की कटऑफ की स्थिति देखें तो वर्ष 2018 में सामान्य श्रेणी के लिए 360 में से 74, ओबीसी, एससी, एसटी के लिए क्रमशः 45, 29, 24 एवं सभी विकलांग स्टूडेंट्स के लिए -35 (माइनस 35) रही। साथ ही 2017 में यह कटऑफ सामान्य के लिए 81, ओबीसी, एससी व एसटी के लिए क्रमशः 49, 32 एवं 27 अंक रही थी, जबकि इस वर्ष गत वर्षों के मुकाबले 21 हजार ज्यादा विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस्ड देने का मौका मिलेगा।
किस कैटेगिरी में कितने ज्यादा स्टूडेंट्स होंगे क्वालीफाई
इस वर्ष 2 लाख 45 हजार स्टूडेंट्स जेईई-एडवांस्ड के लिए क्वालीफाई होंगे। गत वर्ष के मुकाबले ईडब्ल्यूएस कैटेगिरी के 9800 स्टूडेंट्स को शामिल करते हुए 21 हजार अधिक क्वालीफाई हुए विद्यार्थियों में सामान्य श्रेणी के 765, ओबीसी के 5387, एससी के 2993 एवं एसटी के 1496 स्टूडेंट्स ज्यादा क्वालीफाई होंगे। साथ ही सभी श्रेणियां मिलाकर शारीरिक विकलांग 559 स्टूडेंट्स ज्यादा क्वालीफाई होंगे।
फिर गिर सकती है कटआॅफ
एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के कॅरियर काउंसलिंग एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया कि जेईई-मेन के आधार पर जेईई-एडवांस्ड परीक्षा के लिए क्वालीफाई होने वाले विद्यार्थियों की संख्या हर साल बढ़ती जा रही है। इस संख्या के बढ़ने का सीधा असर जेईई-एडवांस्ड परीक्षा देने की कटआॅफ पर पड़ेगा। आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2018 में ओपन श्रेणी की कटआॅफ 74 रही। इससे पहले 2017 की 81 तथा 2016 की 100 अंक रही थी। इस वर्ष गत वर्ष के मुकाबले 765 अधिक स्टूडेंट्स क्वालीफाई किए जाएंगे और इन विद्यार्थियों के लिए जारी की गई कटआॅफ पर भी कई अधिक हजारों विद्यार्थियों को परीक्षा देने का मौका मिल सकेगा। जेईई-मेन के आधार पर यह कटआॅफ 30 अप्रेल को जारी की जाएगी।

 

Suraksha Rajora
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned