जेईई मेन 2021 : उत्तरप्रदेश के जेईई मेन से जुडऩे से बढ़ सकती है विद्यार्थियों की संख्या

यूपी के इंजीनियरिंग कॉलेजों में जेईई मेन के आधार पर होगा प्रवेश

By: shailendra tiwari

Published: 18 Dec 2020, 07:43 PM IST

कोटा. देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन 2021 की आवेदन प्रक्रिया जारी है। दूसरे दिन तक 55 हजार से अधिक विद्यार्थियों ने आवेदन किया। इस वर्ष यह परीक्षा देश-विदेश के 331 परीक्षा शहरों में आयोजित करवाई जाएगी। इस वर्ष हो रही जेईई मेन परीक्षा के चारों सेशन के लिए विद्यार्थी एक साथ आवेदन कर सकते हैं।

आवेदन की अंतिम तिथि 16 जनवरी 2021 है। इस वर्ष जेईई मेन परीक्षा के माध्यम से उत्तरप्रदेश के करीब 750 इंजीनियरिंग संस्थानों की 1 लाख 40 हजार सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा। जिससे इस वर्ष जेईई मेन देने वाले विद्यार्थियों की संख्या में बढ़ोतरी संभव है।

गत वर्ष तक उत्तरप्रदेश के इंजीनियरिंग संस्थानों में यूपीएसईई परीक्षा के माध्यम से प्रवेश दिया जाता था। अब इस स्टेट के संस्थानों में प्रवेश के लिए विद्यार्थियों को जेईई मेन देना अनिवार्य होगा। वर्तमान में हरियाणा, पंजाब, मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार के साथ कई राज्यों में जेईई मेन के स्कोर के आधार पर प्रवेश दिया जाता है।

कैटेगिरी दस्तावेज से परेशानी बरकरार
ऑनलाइन आवेदन के दौरान पहली बार कैटेगिरी संबंधित दस्तावेज अपलोड करने के लिए कहा गया। जिन विद्यार्थियों के पास दस्तावेज उपलब्ध नहीं है, वे परेशान हैं। वे असमंजस की स्थिति में है कि इन दस्तावेजों का कोई भी फार्मेट भी इंफ ोर्मेशन बुलेटिन में जारी नहीं किया गया है। ऐसे में विद्यार्थियों में संशय है कि उनके द्वारा अपलोड कैटेगिरी दस्तावेज मान्य होगा भी या नहीं, क्योंकि इस संबंध में कोई स्पष्ट दिशा निर्देश नहीं दिए गए हैं।

Show More
shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned