जेईई मेन 2021: 13 भाषाओं में होगी जेईई मेन परीक्षा

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन 2021 को लेकर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के बाद बुधवार को केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने स्थिति स्पष्ट कर दी।

 

By: Abhishek Gupta

Published: 16 Dec 2020, 10:51 PM IST

कोटा. देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन 2021 को लेकर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के बाद बुधवार को केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने स्थिति स्पष्ट कर दी। निशंक ने स्पष्ट किया कि इस वर्ष परीक्षा 4 बार 13 भाषाओं में आयोजित की जाएगी। इसमें इंग्लिश, हिन्दी, असमी, बंगाली, गुजराती, क न्नड़, मराठी, मलयालम, ओडिया, पंजाबी, तमिल, तेलुगू और उर्दू में परीक्षा होगी। एनटीए ने मंगलवार को पहले ब्रोशर जारी कर दिया था। जिसे बाद में हटा लिया गया था।

इसके अनुसार 22 से 25 फ रवरी के बीच जेईई मेन 2021 की पहली परीक्षा होनी थी। आगे की परीक्षा मार्च, अप्रेल व मई में होनी थी। अब फ रवरी की तिथि को बदलकर 23 से 26 फ रवरी कर दिया गया है। परीक्षा के लिए 16 दिसम्बर से 16 जनवरी तक आवेदन किया जा सकेगा। 17 जनवरी तक फ ीस जमा करवाई जा सकेगी। जेईई मेन 2021 के चारों सीजन के लिए एक साथ शुल्क जमा करवाई जा सकेगी। यदि स्टूडेंट कोई परीक्षा नहीं देने की स्थिति में फ ीस रिफ ण्ड हो सकेगी। यही नहीं विद्यार्थी हर परीक्षा का परिणाम आने के बाद भी अगली परीक्षा के लिए आवेदन कर सकेगा। आवेदन करने वाले विद्यार्थियों के लिए परीक्षा शुल्क सामान्य ईडब्ल्यूएस एवं ओबीसी कैटेगिरी के लिए 650, एससी एसटी एवं शारीरिक विकलांग एवं सभी कैटेगिरी की छात्राओं के लिए 325 रुपए निर्धारित किया गया है।

चारों परीक्षाओं की तिथियां जारी

एनटीए की वेबसाइट पर रात को चारों परीक्षाओं का कार्यक्रम भी जारी कर दिया गया। कॅरियर काउंसलिंग एक्सपर्ट अमित आहूज ने बताया कि फ रवरी में सीजन-1 की परीक्षा 23 से 26 तक, सीजन-2 की परीक्षा 15 से 18 मार्च तक, सीजन-3 की परीक्षा 27 से 30 अप्रेल तक, सीजन-4 की परीक्षा 24 से 28 मई तक आयोजित की जाएगी।

इसलिए किया बदलाव

एनटीए ने वर्ष 4 अवसर देने के मामले में भी मंत्री निशंक ने स्थिति स्पष्ट की। उन्होंने कहा कि कोविड टाइम चल रहा है, ऐसे में हो सकता है कुछ विद्यार्थी कोविड के चलते एक या दो परीक्षाओं में शामिल हो सकें, इसे देखते हुए परीक्षा के अवसर देना सुनिश्चित किया गया है। यही नहीं विद्यार्थियों को इससे यह भी मदद मिलेगी कि वे अपने स्कोर को बेहतर कर सकेंगे। वर्ष 2021 में होने वाली जेईई मेन परीक्षा में 90 सवाल पूछे जाएंगे। प्रश्नपत्र विषयवार दो भागों में विभक्त होगा। प्रत्येक प्रश्न 4 अंकों का होगा। गलत उत्तर देने पर नेगेटिव मार्किंग होगी। साथ ही न्यूमेरिकल वैल्यु बेस्ड प्रश्नों के सही उत्तर देने पर 4 अंक मिलेंगे व गलत उत्तर पर कोई नैगेटिव मार्किंग नहीं होगी। इस प्रकार कुल प्रश्नपत्र 300 अंकों का होगा।

Abhishek Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned