विवादों का 'मालिक', कोटा पुलिस का 'मलिक'... पढि़ए पूरी कहानी

आकाशवाणी कॉलोनी निवासी एक जने ने पुलिस अधीक्षक सिटी को ज्ञापन देकर पुलिसकर्मी रविन्द्र मलिक द्वारा जमीनी विवाद पैदाकर उसे निस्तारित करने के लिए 30 लाख रुपए की मांग की थी।

By: ​Zuber Khan

Published: 19 Jan 2019, 09:00 AM IST

कोटा. आकाशवाणी कॉलोनी निवासी एक जने ने पुलिस अधीक्षक सिटी को ज्ञापन देकर पुलिसकर्मी रविन्द्र मलिक द्वारा जमीनी विवाद पैदाकर उसे निस्तारित करने के लिए 30 लाख रुपए की मांग की थी। इस मामले में नयापुरा पुलिस ने शुक्रवार को पीडि़त के बयान दर्ज किए।
आकाशवाणी क्षेत्र में लेक व्यू कॉलोनी निवासी समीर खान ने शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक सिटी को सौंपे ज्ञापन में आरोप लगाया कि जमीन खरीद के मामले में खातेदार कन्हैयालाल द्वारा उसके खिलाफ मामला दर्ज करवाया था।

Read More: सावधान कोटावासियों! पहले आपके दिल से फिर जेब से खेलेंगी ये लड़कियां...

इस मामले में खातेदार कन्हैयालाल को चेक प्राप्त होने के बाद उनके व खातेदार के बीच कोई विवाद नहीं रहा। उसने आरोप लगाया कि इसके बावजूद इस मामले में पूर्व अनुसंधान अधिकारी नयापुरा थाना व वर्तमान अनुसंधान अधिकारी द्वारा प्रकरण में उस पर दबाव बना रहे हैं। इस मामले में कुछ दिनों पहले निलम्बित हैड कांस्टेबल रविन्द्र मलिक ने उसे फोन कर बुलाया तथा मामले को निस्तारित करने के लिए 30 लाख रुपए की मांग की।

BIG NEWS: कार में एक लड़की और दो पुलिस वाले...पढि़ए आगे की खबर...

उसने धमकाया कि यदि रुपए नहीं दिए तो मामले में चालान पेश कर गिरफ्तारी कराने की धमकी दी। उसके मना करने पर चार दिन बाद उसने उसे कोटड़ी चौराहे पर बुलाया तथा 15 लाख रुपए देने की मांग की। इस पर मामले में विवाद नहीं होने की बात कहने पर उसने कहा कि अब इस मामले से निपटकर देख लेना। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने पीडि़त के बयान के लिए नयापुरा पुलिस को आदेश दिए। जिस पर नयापुरा पुलिस निरीक्षक मनोज राणा ने शुक्रवार शाम को पीडि़त के बयान लिए। वहीं जांच कर रहे अधिकारियों ने लगाए गए आरोपों को झूठा करार दिया।

Warning: अपने हुस्न का दिवाना बना फिर ऐसा काम करती हैं दिल्ली-मुंबई की लड़कियां...

मेरे खिलाफ साजिश रचकर मुझे फंसाया जा रहा है। मैं पिछले करीब साढ़े चार माह से निलम्बित चल रहा हूं। मेरा समीर और नयापुरा थाने के जांच अधिकारियों से परिचय नहीं है। मेरे खिलाफ एक के बाद एक आरोप लगाकर मुझ़े बदनाम कर मेरी छवि को खराब किया जा रहा है। मेरा इन मामलों से कोई लेना देना नहीं है। मुझे पुलिस जांच पर पूरा यकीन है। जांच में असलियत सामने आ जाएगी।
रविन्द्र मलिक, निलम्बित पुलिसकर्मी।

Show More
​Zuber Khan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned