कोरोना से जंग हार गए कापरेन थानाधिकारी

बूंदी जिले के कापरेन थानाधिकारी बुद्धिप्रकाश नामा की शुक्रवार रात कोरोना से मौत हो गई।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 18 Sep 2020, 11:19 PM IST

कोटा. कोरोना काल में कोरोना कर्मवीर के रूप में काम करने वाले पुलिस अधिकारी कोरोना से जंग हार गए। बूंदी जिले के कापरेन थानाधिकारी बुद्धिप्रकाश नामा की शुक्रवार रात कोरोना से मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज नए अस्पताल के कार्यवाहक अधीक्षक डॉ. एस. जेलिया ने बताया कि अस्पताल में उनकी लगातार स्थिति बिगडऩे पर शुक्रवार रात 8.30 बजे अंतिम सांस ली। वे 8 सितम्बर को कोविड पॉजिटिव आए थे। उसी दिन उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसके बाद 12 सितम्बर को उनकी एक रिपोर्ट नेगेटिव आ गई थी, लेकिन उनकी स्थिति बिगड़ती चली गई। उन्हें सांस की तकलीफ होने पर वेंटिलेटर पर भी लिया गया, लेकिन शुक्रवार रात 8.30 बजे अंतिम सांस ली। जानकारी के अनुसार, कोरोनाकाल में उन्होंने अपने क्षेत्र में सेवा भावी काम किया था। वे हमेशा लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करते थे।

मदद करते-करते चले गए बुद्धिप्रकाश

जिले के कापरेन थाने के प्रभारी 56 वर्षीय बुद्धिप्रकाश नामा ने कोरोना काल में कभी हिम्मत नहीं हारी। चाहे पैदल चलते राहगीरों को उनके गन्तव्य तक वाहनों से पहुंचाना हों या फि र भूखों के लिए रोटी की व्यवस्था करनी हों। हर जगह जांबाज सिपाही के रूप में नामा डटे दिखाई पड़े। लॉकडाउन के बीच किसी को परेशानी नहीं हो, इसके लिए बाजार को खोलने की ऐसी व्यवस्था की जिसे पूरे जिले के लोगों ने सराहा। नामा लोगों की सेवा करते-करते ही इस महामारी की चपेट में आ गए। उन्हें कोटा मेडिकल कॉलेज के नए अस्पताल में भर्ती कराया गया और वहीं अंतिम सांस ली। नामा के निधन पर शनिवार को कापरेन कस्बा बंद रहेगा। मंडी परिसर में शोक सभा होगी।

राष्ट्रपति ने किया था सम्मानित

कोटा जिले के खेड़ारसूलपुर के रहने वाले बुद्धिप्रकाश नामा 14 दिसम्बर 1985 को कोटा पुलिस में कांस्टेबल के रूप में भर्ती हुए थे। कार्यकुशलता और पुलिस में पकड़ के चलते उन्हें राष्ट्रपति पदक से सम्मानित किया गया था। नामा बूंदी जिले में डाबी, नमाना थाने में एसएचओ रहे। अभी डेढ़ वर्ष से कापरेन थाने एसएचओ के पद पर तैनात थे। नामा के दो बेटे और एक बेटी है। जिनमें से बेटी दीपिका और बेटे दीपक का विवाह हो चुका।

coronavirus Covid-19 Doctors
Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned