एमबीएस अस्पताल पहुंचे जिला कलक्टर ने खुद बंद किया खुला सीवरेज चेम्बर ,अधिकारियों के फूले हाथ-पांव

एमबीएस अस्पताल पहुंचे जिला कलक्टर ने खुद बंद किया खुला सीवरेज चेम्बर ,अधिकारियों के फूले हाथ-पांव

Rajesh Tripathi | Updated: 12 Oct 2019, 09:08:24 PM (IST) Kota, Kota, Rajasthan, India

एमबीएस अस्पताल परिसर में गदंगी व आवारा जानवर देख बिफरे कलक्टर,
संवेदक को पाबन्द करने के दिए निर्देश, अस्पताल का किया औचक निरीक्षण


कोटा. जिला कलक्टर ओम प्रकाश कसेरा ने शनिवार को एमबीएस अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान वह परिसर में गदंगी देख बिफर पड़े। उन्होंने परिसर में जमा कचरे के उठाव के लिए संवेदक को पाबन्द करने एवं महिने में एक बार नगर निगम की टीम द्वारा सफ ाई कराने के निर्देश दिए। अस्पताल परिसर में घूमते श्वानों एवं सुअरों को पकड़वाने के लिए निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया।

उन्होंने कहा कि परिसर में घूमते सुअरों को पकड़ कर मालिकों की पहचान कर दुबारा नहीं छोडऩे के लिए पाबन्द किया जाए। परिसर में खुल पड़े चेम्बर के ***** को कलक्टर खुद बंद करने लगे। कलक्टर को यह काम करता देख निगम व पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। कलक्टर ने खुले सीवरेज चेम्बरों के ***** को बन्द करवाने के तत्काल बाद इनके फोटो भेजने के निर्देश दिए।


कलक्टर पहुंच गए, अधिकारी नदारद

जिला कलक्टर दोपहर 12.30 बजे अस्पताल पहुंचे थे। लेकिन इस समय तक प्रशासनिक व अस्पताल प्रशासन का कोई अधिकारी नहीं पहुंचा। उन्होंने एसडीएम को अधिकारियों को फोन कर बुलाने के निर्देश दिए। इसके बाद अधिकारी दौड़ते-भागते हुए आए। जिला कलक्टर ने अस्पताल अधीक्षक से पूछा कि आपको मेरे आने की जानकारी नहीं थी क्या। इस पर उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी दूसरे दरवाजे पर आपका इंतजार कर रहे थे।

हर ब्लॉक का किया निरीक्षण
जिला कलक्टर ने ओपीडी से निरीक्षण कार्य प्रारंभ कर सामान्य वार्ड, आसीयू, ईएनटी वार्ड, पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड, आर्थो वार्ड, एक्स-रे कक्ष, सोनाग्राफ ी कक्ष का निरीक्षण किया। भर्ती रोगियों से अस्पताल में दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। जहां-जहां सफ ाई, भवन मरम्मत के संबंध में कमियां दिखाई दी।, अस्पताल प्रशासन एवं सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को तकमीना बनाकर कमियां दूर कराने के निर्देश दिए। सामान्य वार्ड में सफ ाई, हवा-रोशनी की व्यवस्था के अधीक्षक को निर्देश दिए। ईएनटी वार्ड में भर्ती रोगियों के बारे एक स्वास्थ्यकर्मी से जानकारी ली, लेकिन वह नहीं दे सका। इस पर कलक्टर ने नाराजगी जताई। खातौली निवासी रोगी मकसूद से उपचार के बारे में पूछा और जानकारी ली तथा शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना की।

बंद सोनोग्राफी मशीन को चालू करो
कलक्टर ने तीनों एक्स-रे मशीन एवं सोनोग्राफ ी मशीन भी देखी। सोनाग्राफ ी मशीन बंद होने की जानकारी मिलने पर मेडिकेयर रिलीफ सोसायटी से जल्द ठीक करवाने के निर्देश दिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned