कोटा में मंत्रीजी जिस रूट पर जाने थे, वहां ही फैला हुआ था कचरा

- स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने शहर के विकास कार्यों का लिया जायजा
- सफाई नहीं होने की शिकायत पर दौड़े आयुक्त, थमाया नोटिस

By: Ranjeet singh solanki

Published: 10 Sep 2020, 08:00 PM IST

कोटा. कोटा उत्तर नगर निगम के प्रशासक एवं आयुक्त वासुदेव मालावत ने गुरुवार को सेक्टर पांच का आकस्मिक दौरा किया तो सफाई व्यवस्था की पोल खुल गई। केवल एक सेक्टर में ही 13 कर्मचारी नदारद मिले। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि शहर की सफाई कैसे होगी। सफाई कार्य में लापरवाही सामने आने पर आयुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारी, निरीक्षक समेत 13 कर्मचारियों को नोटिस थमा दिया है। सुबह निगम आयुक्त को जिला प्रशासन की ओर से स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल के शहर के विकास कार्यों का जायजा लेने की सूचना मिली। जिस मार्ग पर मंत्रीजी को दौरा करना था वहां ही सफाई नहीं हुई थी, और कचरा फैला हुआ था। यह सूचना मिलने पर आयुक्त ने औचक निरीक्षण किया पर सफाई नहीं होने पर स्वास्थ्य अधिकारी समेत अन्य कर्मचारियों को नोटिस थमाया। आयुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारी सतीश मीना व अनुपस्थित 13 सफ ाई कर्मियों को कारण बताओ नोटिस तथा स्वास्थ्य निरीक्षक प्रहलाद व जमादार हकीम को 17 सीसी के नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान सुबह सेक्टर 5 के क्षेत्र रामपुरा, आर्य समाज रोड, सब्जीमंडी व श्रीपुरा क्षेत्र में सफ ाई कार्यों का मौके पर निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान देखा कि कुछ स्थानों पर पुख्ता ढंग से सफ ाई नहीं की गई है। साथ ही सफ ाई कार्यों की मोनिटरिंग में भी लापरवाही बरती गई है। उन्होंने श्रीपुरा क्षेत्र में मौके पर ही लगाए गए सफ ाई कर्मियों को स्वास्थ्य निरीक्षक व जमादार के जरिए बुलवाया और हाजिरी रजिस्टर से उनकी उपस्थिति की जांच की। जांच में उन्होंने पाया कि सफ ाई कर्मियों में से 13 सफ ाई कर्मी मौके पर मौजूद नहीं है। उन्होंने सेक्टर 5 व सेक्टर 6 के कार्यालयों की व्यवस्थाओं का भी निरीक्षण किया।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned