नौकरी प्राइवेट अस्पताल में, तनख्वाह उठा रहे है निगम से

दोनों निगमों में ही चल रहा है सफाई में घालमेल

By: Ranjeet singh solanki

Published: 21 Sep 2020, 05:53 PM IST

कोटा. शहर के दोनों ही नगर निगमों में सफाई में बड़ा घालमेल चल रहा है। कई सेक्टरों में तो सफाई कर्मचारियों की कागजों में ड्यूटी लग रही है। आधे सफाई कर्मचारी फील्ड में नजर नहीं आते। कई सफाई कर्मचारियों ने एवजी कर्मचारी लगा दिए हैं। एक दर्जन ऐसे सफाई कर्मचारी है, जिनकी ड्यूटी तो सफाई में लगी हुई है, लेकिन निगम में अन्य कामों में लगा रखा है। यह वरिष्ठ कर्मचारियों के नजदीकी रिश्तेदार हैं। जांच में सामने आया कि कुछ सफाई कर्मचारी तो प्राइवेट अस्पतालों में सफाई का काम कर रहे हैं और वेतन निगम से उठा रहे हैं। इस तरह की गड़बडिय़ां मिलने के बाद निगम प्रशासन ने कार्रवाई शुरू कर दी है।
कोटा उत्तर और कोटा दक्षिण निगम आयुक्त ने इस माह में कई सेक्टरों का औचक निरीक्षण किया है, इसमें इस तरह की बड़ी खामियां नजर आई। हालांकि सफाई कर्मचारियों की ड्यूटी में गड़बड़झाला सामने आने के बाद भी ठोस कार्रवाई के बजाए सिर्फ नोटिस देकर इतिश्री की जा रही है। दोनों आयुक्तों ने सेक्टरों पर आकस्मिक रूप से उपस्थिति की जांच की तो कई कर्मचारी ड्यूटी पर नहीं मिले। पिछले दिनों उत्तर आयुक्त ने सेक्टर कार्यालय के निरीक्षण के दौरान सभी सफाई कर्मचारियों को सेक्टर कार्यालय पर बुलाने को कहा तो 13 कर्मचारी सामने नहीं आए। जबकि रजिस्टर में उनकी हाजिरी दर्ज की गई थी। आयुक्त ने इसे गंभीर गड़बडी मानते हुए स्वास्थ्य अधिकारी, स्वास्थ्य निरीक्षक और जमादार को 17 सीसी का नोटिस थमाया था। कोटा दक्षिण निगम आयुक्त कीर्ति राठौड़ ने कहा कि समय-समय पर आकस्मिक निरीक्षण कर सफाई व्यवस्था का और दुरुस्त करने के प्रयास किए जाते हैं। सफाई में लापरवाही बरतने और गैर हाजिरी रहने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कोटा उत्तर निगम आयुक्त वासुदेव मालावत ने कहा कि हाजिरी लगाकर गायब होने कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। निगरानी व्यवस्था को और मजबूत किया जा रहा है। अनुपस्थिति के बाद हाजिरी कैसे लगाई जाती है, इस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

फर्जी हाजिरी भरने का मामला पकड़ा था

तत्कालीन महापौर महेश विजय ने रायपुरा सेक्टर कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया था। इसमें एक दर्जन से अधिक सफाई कर्मचारियों की फर्जी हाजिरी लगाने तथा ड्यूटी पर नहीं आने पर भी वेतन का भुगतान करने का मामला पकड़ा था।
यह है स्थिति
कोटा उत्तर निगम . आयुक्त वासुदेव मालावत ने पिछले दिनों सेक्टर 5 के क्षेत्र रामपुरा, आर्य समाज रोड, सब्जीमण्डी व श्रीपुरा क्षेत्र में सफाई कार्यों का मौके पर निरीक्षण किया। श्रीपुरा क्षेत्र में सफ ाई कर्मियों को स्वास्थ्य निरीक्षक व जमादार के जरिए बुलवाया और हाजिरी रजिस्टर से उपस्थिति की जांच की। जांच में 13 सफ ाईकर्मी मौजूद नहीं थे। सभी को नोटिस थमाया गया।

कोटा दक्षिण निगम . कोटा दक्षिण निगम कीर्ति राठौड़ ने सेक्टर 15 के क्षेत्र रायपुरा, बोरखेड़ा, 80 फीट रोड इलाकों का दौरा किया और सफ ाई कार्यों का मौके पर निरीक्षण किया। मौके पर सफाई कर्मचारी नहीं मिले। जबकि रजिस्टर में हाजिरी दर्ज थी। मौेके पर ही एक स्वास्थ्य निरीक्षक, दो जमादार, एक सहायक जमादार व तीन सफ ाई कर्मियों को नोटिस जारी किया गया।


वासुदेव मालावत आयुक्त कोटा उत्तर निगम

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned