एसपी का फरमान, पेंडिंसी खत्म करो, पुलिस एक्शन में

कई बड़े मामलों में फरार चल रहे अपराधियों को भी दबोचा

By: Ranjeet singh solanki

Published: 29 Nov 2020, 08:40 PM IST

कोटा. शहर के नए पुलिस अधीक्षक विकास पाठक ने पदभार संभालते ही सभी थानाधिकारियों को अपने-अपने थानों में अर्से से चल रही पेंडिंसी खत्म करने के आदेश दिए तो पुलिस अफसर तत्काल हरकत में आ गए हैं। जो अपराधी अर्से से पुलिस की पकड़ से दूर थे, उन्हें भी धरदबोचा है। कई बड़े मामलों में शातिर अपराधी पुलिस को हर बार गच्छा दे जाते थे, लेकिन इस बार पुलिस ने सतर्कता बरते हुए गिरफ्त में ले लिया है। रविवार को ही लाखों रुपए की धोखाधड़ी के मामले में फरार चल रहे आरोपी को गिरफ्तार किया। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर एएसपी प्रवीण जैन व संबंधित सर्किल के वृत्ताधिकारी खुद पुराने मामलों की निगरानी कर रहे हैं और विशेष टीमों का गठन कर निस्तारण करने में जुटे हैं। इससे फरार अपराधी पुलिस की गिरफ्त में आ रहे हैं।

46 लाख की धोखाधड़ी का आरोपी धरा गया

नयापुरा पुलिस ने रविवार को एसपी के निर्देश पर डेढ़ साल से फरार चल रहे 46 लाख से अधिक की राशि के धोखाधड़ी करने के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। यूको बैंक रामपुरा के प्रबंधक ने पिछले साल रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि आरोपियों ने षड्यंत्रपूर्वक लोन लेकर फ्लेट को दान कर दिया और लोन के 46 लाख रुपए हड़प लिए। पुलिस ने अनुसंधान में कोटा जंक्शन रोड स्थित आरोपी उमेश मित्तल के खिलाफ अपराध प्रमाणित पाए जाने पर गिरफ्तार किया गया। सिटी एएसपी जैन व वृत्ताधिकारी भगवतसिंह हिंगड़ के निर्देशन में थानाधिकारी भवानीसिंह के नेतृत्व में टीम ने कार्रवाई को अंजाम दिया।

तीन साल से फरार आरोपी गिरफ्त में

तीन साल पहले श्रीनाथपुरम् निवासी फरियादी अजय खण्डेलवाल ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि गुमानपुरा निवासी आरोपी जावेद पठान ने षडयंत्र कर फर्जी पहचान पत्र कर उसका दुरुपयोग किया। पुलिस ने जांच में मामला प्रमाणित पाए जाने पर आरोपी को रविवार को गिरफ्तार किया।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned