पहले दी सीख, अब बन रहे प्रेरणा स्त्रोत

कोरोना के समय बुजुर्गों ने परिवार जनों को कोरोना से बचने के लिए घर से बाहर नहीं निकलने की सीख दी। अब जब कोरोना को हराने का समय आया तो टीकाकरण के लिए भी वे प्रेरणा स्त्रोत बने है।

 

By: Abhishek Gupta

Published: 03 Mar 2021, 01:21 PM IST

कोटा. कोरोना के समय बुजुर्गों ने परिवार जनों को कोरोना से बचने के लिए घर से बाहर नहीं निकलने की सीख दी। अब जब कोरोना को हराने का समय आया तो टीकाकरण के लिए भी वे प्रेरणा स्त्रोत बने है। वे खुद घर से निकलकर सेशन साइट पर जाकर कोरोना टीकाकरण करवा रहे है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि गंभीर बीमारी से पीडि़त व्यक्ति भी आगे आकर कोरोना को हराने में लगे है। वे भी टीका लगवा रहे है।
कोविड-19 वैक्सीनेशन फेज-2 में मंगलवार को जिले में 74 साइट्स पर टीकाकरण सत्र आयोजित हुए। इनमें 3731 लाभार्थियों को पहली डोज लगाई गई। जबकि 498 को दूसरी डोज लगाई गई। सीएमएचओ डॉ. भूपेन्द्र सिंह तंवर ने बताया कि टीका लगवाने वालों में 60 वर्ष से अधिक आयु के 3253 वरिष्ठ नागरिकों को वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई। जबकि 45 से 60 वर्ष की आयु के बीच वाले कोर्मोडिटिज/गंभीर बीमारियो से पीडि़त 206 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई। इनके अलावा 242 हैल्थ केयर वर्कर्स को पहली व 498 को दूसरी डोज लगाई गई। फ्रंटलाइन वर्कर्स में 30 को पहली डोज लगाई गई।

सर्वर से परेशान रहे बुजुर्ग
सर्वर पर लगातार भार पडऩे से कुछ सेशन साइट पर परेशानी हुई। इससे बुजुर्ग परेशान रहे। कुछ सेशन साइट पर उन्हें इंतजार करना पड़ा। जबकि कुछ जगहों पर सुबह सर्वर नहीं चलने से दोबारा वे शाम को टीका लगवाने पहुंचे।

अब अपने नजदीकी केंद्र पर करवाएं टीकाकरण
कोटा. कोविड-19 के टीकाकरण कार्यक्रम कोविन-2.0 में आपके घरों के नजदीक भी टीकाकरण की सुविधा उपलब्ध है। इन केंद्रों पर बिना पूर्व पंजीकरण करवाए भी जाकर सीधे टीकाकरण करवाया जा सकता है। साथ में फ ोटोयुक्त पहचान पत्र ले जाना आवश्यक होगा। वहीं, 45 से 59 वर्ष आयु वर्ग वालों को अपने साथ अन्य बीमारी का प्रमाण पत्र ले जाना आवश्यक होगा, जो डॉक्टर की ओर से प्रमाणित होगा। इस चरण में घर बैठे ऑनलाइन पंजीकरण करवाकर ऑनलाइन अपॉइंटमेंट भी लिया जा सकता है। इसमें पहचान पत्र स्वयं को अपलोड करना होगा।

टीकाकारण की जानने योग्य अन्य बातें
1 जनवरी 2021 को 60 वर्ष या इससे अधिक उम्र के नागरिक
1 जनवरी 2021 को 45 से 59 वर्ष आयु के ऐसे नागरिक जो किसी बीमारी से ग्रसित हैं।
सूची के अनुसार, इन्हें पंजीकृत मेडिकल प्रेक्टिशनर का प्रमाण पत्र दिखाना होगा।

यह इतनी राशि लगेंगी
निजी अस्पताल में भी सुविधा- यहां 100 रुपए सर्विस चार्ज, 150 रुपए वैक्सीन के शुल्क सहित 250 रुपए में टीका लगवाया जा सकता है।

ऑनलाइन पंजीकरण इस तरह
कोविन पोर्टल के माध्यम से नागरिकों के लिए उपलब्ध अन्य आईटी प्लेटफ ार्म जैसे आरोग्य सेतु पर भी ऑनलाइन पंजीकरण घर बैठे कर सकते हैं।- पंजीकरण के समय खाली स्लॉट्स की उपलब्धता तिथि व समय के साथ सूची नजर आएगी, अपनी सुविधा अनुसार स्लॉटस अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं।

सामान्य जानकारी व फ ोटो युक्त पहचान पत्र को पंजीकरण के समय अपलोड किया जाएगा।

ऑनलाइन पंजीकरण करवाकर और अपॉइंटमेंट लेकर जाने परसाथ में वही पहचान पत्र लेकर जाएं, जिसे अपलोड किया था,मौके पर पंजीकरण करवाने की स्थिति में यह ले जाएं

पहचान पत्र में आधार कार्ड, फ ोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र- 45 से 59 वर्ष आयु वर्ग वालों को अन्य बीमारी का कोर्मोबिड प्रमाण पत्र ले जाना होगा।

Abhishek Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned