कोरोना के बीच सोशल प्लेटफार्म पर साहित्य महोत्सव

कोटा की चैम्प रीडर्स एसोसिएशन की पहल पर ई-साहित्य महोत्सव-2020 का ऑनलाइन आगाज हुआ और यह 31 अगस्त तक चलेगा।

By: Jaggo Singh Dhaker

Updated: 02 Aug 2020, 03:18 PM IST

कोटा. कोरोना संक्रमण के बीच भी लोग अपनी अभिरुचि और उपयोगी गतिविधियों को पूरा करने के लिए हर तरह के जतन कर कर रहे हैं। कोटा के लेखकों की गई पुस्तकें आ चुकी हैं। कई लेखकऔर कवि अपनी रचाएं सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर कर रहे हैं। हाल में राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी टीकम चंद बोहरा की नई पुस्तक 'मेरा मन गुलमोहर हुआÓ कोटा में काफी चर्चा में है। वहीं पिछले सात वर्षों से साहित्य के क्षेत्र में कार्यरत कोटा की चैम्प रीडर्स एसोसिएशन की पहल पर ई-साहित्य महोत्सव-2020 का ऑनलाइन आगाज शनिवार से हुआ है और यह 31 अगस्त तक चलेगा। महोत्सव का लाइव प्रसारण विभिन्न सोशल माध्यम से किया जाएगा। कार्यक्रम में देशभर से विभिन्न विधाओं के लेखक भाग ले रहे हैं। इसका मुख्य उद्देश्य पुस्तक पढऩे की प्रवृत्ति को बढ़ावा देना एवं लेखन क्षेत्र में युवाओं की भागीदारी को विकसित करना है। जहां कोरोना महामारी ने दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है वहीं चैम्प रीडर्स एसोसिएशन ने देश के युवा लेखकों और उनकी पुस्तक को पाठकों तक पहुंचाने के लिए इस तरह के ऑनलाइन कार्यक्रम शुरू किए हैं। साहित्य महोत्सव में भाग लेने वाले लेखकों में सुदीप नागरकर, नील डिसिल्वा, मोनिषा के गुम्बर, नितिन शर्मा, कपिल राज, जुपिंदरजीत सिंह, डॉ. मनीषा यादव, डॉ. पुलकित शर्मा, सुवाश्री चौधरी, सोनिया सहिजवानी, चारू वशिष्ठ, रुचिका यादव एवं साहिल तनवीर सरीखे युवा लेखक शामिल हैं। इसमें छात्र संगठन पैंटोमनिया, लवली यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट चैप्टर सहित अन्य कई संस्थाएं सहयोगी के रूप में जुड़ी हैं।

Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned