Lock Down : पुरुषों ने संभाला घर, रसोई से लेकर सफाई में भी दखल

कोई खाना बनाने में मदद कर रहा तो कोई कपड़े धोने व सफाई में

 

By: shailendra tiwari

Published: 27 Mar 2020, 04:10 PM IST

कोटा. कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए पूरी दुनिया थम सी गई है। भारत में भी 25 मार्च से आगामी 21 दिनों का लॉकडाउन चल रहा है। जरूरी सेवाओं के अलावा सभी उद्योग-व्यवसाय, ऑफिस व संस्थाएं बंद हैं। ऐसे में अब वे सभी लोग घरों में ही हैं, जो घर को बहुत कम समय दे पाते थे। अब दिनभर घर पर ठाले बैठे रहने के बजाए वे घर के कामों में हाथ बंटा रहे हैं। यानी पापा अब मम्मी की भूमिका में आ गए हैं, जो रसोई से लेकर सफाई के कार्यों में अपना हुनर दिखा रहे हैं। पत्रिका ने शुक्रवार को ऐसे ही लोगों से बात की तो अलग-अलग अनुभव सामने आए।

Lock Down : पुरुषों ने संभाला घर, रसोई से लेकर सफाई में भी दखल


नाम : सतीश शर्मा

व्यवसाय : ट्रांसपोर्ट व्यवसायी
अनुभव : इतने सालों में पहली बार पता चला है कि घर में महिलाएं कितना काम करती हैं। सुबह से उठकर रात तक सभी के लिए कुछ न कुछ काम करती हैं। अभी घर पर रहकर खाना बनाने में पत्नी की मदद कर रहा हूं। माता-पिता और बच्चों को भी अधिक समय दे पा रहा हूं।

Lock Down : पुरुषों ने संभाला घर, रसोई से लेकर सफाई में भी दखल

नाम : सत्यनारायण पाराशर

व्यवसाय : कोटा स्टोन :उद्यमी
अनुभव : पाराशर बताते हैं कि लॉकडाउन की वजह से व्यापार जरूर प्रभावित हो रहा है, लेकिन लम्बे समय बाद परिवार के साथ समय बिताने का अवसर मिला है। ऐसे में वे हर दिन परिवार के लिए कोई न कोई पकवान बना रहे हैं, साथ ही घर के दूसरे कामों में भी हाथ बंटा रहे हैं।

Lock Down : पुरुषों ने संभाला घर, रसोई से लेकर सफाई में भी दखल


नाम : धर्मेन्द्र दीक्षित

व्यवसाय : निजी स्कूल संचालक
अनुभव : मैं स्कूल के साथ सामाजिक कार्यों के चलते घर को बिल्कुल भी समय नहीं दे पाता हूं। लॉकडाउन के कारण अब पूरा समय घरवालों के लिए है। घर के विभिन्न कार्यों में पत्नी की मदद करके अच्छा लग रहा है। आज ही मैंने सभी धुले हुए कपड़ों पर प्रेस की।

Lock Down : पुरुषों ने संभाला घर, रसोई से लेकर सफाई में भी दखल


नाम : देवव्रत सिंह हाड़ा

व्यवसाय : संचालक पगमार्क फाउडेशन
अनुभव : पर्यावरण व वन्यजीवों के काम करता हूं। कभी घर पर इतने समय तक रुका ही नहीं। अब पता चल रहा हैं मां कितना काम करती हैं। मुझे पौधों से बहुत प्यार है। अभी सुबह-शाम पौधों को पानी देना और उनकी सार-संभाल कर रहा हूं। घर पर हर पल खुशी देने वाला है।

Corona virus
Show More
shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned