लूटेरी दुल्हन व साथी को मध्यप्रदेश से दबोच लाई कोटा पुलिस,सामने आए चौंकाने वाले खुलासे

लोगों को शादी का झांसा देकर करते थे ठगी

By: Suraksha Rajora

Published: 07 Mar 2020, 09:29 PM IST

कोटा. रेलवे कॉलोनी पुलिस ने लूटेरी दुल्हन व साथी को भोपाल से गिरफ्तार किया। दोनों आरोपियों को शनिवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से दोनों को दो दिन के रिमांड के लिए पुलिस को सौंप दिया गया। आरोपियों ने भोपाल में भी एक जने के साथ ऐसी वारदात को अंजाम देकर सौ ग्राम सोने के जेवर ठगने की बात कबूली। पुलिस आरोपियों से अन्य वारदातों के बारे में भी पूछताछ कर रही है।

थानाधिकारी अनीस अहमद ने बताया कि 1 मार्च को राजकुमार शर्मा ने पुलिस में दर्ज करवाई रिपोट्र में बताया कि उसने विवाह के विज्ञापन पर शंकर दुबे व रानी मिश्रा ने उस पर फोन से संपर्क किया। उन्होंने स्वयं को मध्यप्रदेश के पन्ना जिले के गांव मितरवार का निवासी बताया। राजकुमार रानी मिश्रा से विवाह के झांसे में आ गया और 5 फरवरी को शंकर व रानी दोनों ट्रेन से कोटा पहुंचे।

उन्हें ट्रेन से लेकर वह स्वयं के घर ले आया। जहां शंकर दुबे उर्फ रामफूल शुक्ला के कहने पर उसने उसकी कथित पोती रानी मिज्ञा से शादी कर ली। 7 फरवरी को शंकर ने रानी की मां के देहांत के बात कही। इस पर उसने उसे दयोदय एक्सप्रेस में बैठा दिया। इस दौरान रानी मिश्रा उर्फ सुनीता शुक्ला उसके साथ एक लाख रुपए, 50 हजार के गहने व 50 हजार के कपड़े ले गई।

शंकर दुबे से बात होने पर उसने कहा कि रानी मां के देहांत से इतनी दुखी हुई, कि उसने नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली। इसके बाद दोनों ने फोन बंद कर दिए। इस पर पुलिस ने तफ्तीश कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। शनिवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से दोनों को दो दिन के रिमांड के लिए पुलिस को सौंप दिया गया।

पहले भी कर चुके वारदात -
पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि वे ऐसी ही वारदात को भोपाल में सेवानिवृत इंजीनियर प्रसाद कुमार शाह (62) के साथ भी कर चुके है। जिसमें आरोपी ने सौ ग्राम सोने के जेवर व अन्य सामान ठग लिया था। इस वारदात में भी शंकर दुबे दलाल की भूमिका में था।

Show More
Suraksha Rajora
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned