अलर्ट ! मौसम के बदले मिजाज से मावठ,फसलों में पाले की आशंका,बारिश ने छुड़ाई धूजणी

Weather update बारिश के बाद बढ़ी ठिठुरन, हाड़कंपाती सर्दी में अलाव ही बना एकमात्र सहारा

कोटा. हाड़ौती में गुरुवार को भी बादल छाए रहे। कई जगह मावठ गिरी। बादल छाए रहने से दिनभर सूरज के दर्शन नहीं हुए। बच्चे ठिठुरते-ठिठुरते स्कूल पहुंचे। बाजार में भी चहल-पहल कम रही। लोग गर्म कपड़ों में भी ठिठुरते नजर आए। मावठ से धनिए की फसल में नुकसान होने की आशंका है। बारां व झालावाड़ में न्यूनतम तापमान 11 और बूंदी में 12.4 डिग्री सेल्यियस रहा।

सरकार ये तीन बातें मान ले तो उबर सकते है मंदी से, एक स्वर में बोले कोटा के उद्यमी व व्यापारी


कोटा जिले में सर्दी का सितम जारी रहा। कुछ स्थानों पर बारिश हुई। इटावा में दिन में रुक-रुक कर करीब पौन घंटे तक रिमझिम बारिश हुई। सुल्तानपुर में करीब आधा घंटे तक व सांगोद में पांच मिनट बूंंदाबांदी हुई। रामगंजमंडी, चेचट, मोईकलां, रावतभाटा में दोपहर तक कोहरा छाया रहा। खातौली में कुछ देर रिमझिम बारिश हुई। मंडाना में बुधवार रात बारिश हुई।

बूंदी शहर में सुबह से ही घना कोहरा छाया रहा। शाम पांच बजे हल्की बूंदाबांदी हुई। कोहरा व बादल छाए रहने से गलन बनी रही। बारां जिले में लगातार दूसरे दिन मावठ का दौर जारी रहा। दिनभर रिमझिम-रिमझिम बूंदें बरसती रही। न्यूनतम तापमान 12 डिग्री रहा। सुबह की शुरुआत कोहरे से हुई। कोहरे व बरसात के कारण वाहनों की गति धीमी रही। दिन में भी हेडलाइट जलानी पड़ी। झालावाड़ मावठ से मौसम सर्द बना रहा। कई क्षेत्रों में हल्की बारिश हुई है।

Show More
Suraksha Rajora
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned