बाइक हथियाने के लिए सिर पर था खून सवार, नुकीले पत्थर के वार से कर दी हत्या, आरोपी अब भुगतेगा आजीवन कारवास

सात साल पुराना हत्या का मामला : अदालत ने 70 हजार रुपए के अर्थदंड से भी किया दंडित

By: Dhirendra

Published: 27 Nov 2019, 08:33 PM IST

कोटा. महावीर नगर थाना क्षेत्र में बाइक व मोबाइल ल के लिए हत्या करने के एक आरोपी को एडीजे क्रम संख्या-2 अदालत ने बुधवार को आजीवन कारावास व 70 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित किया।

Read more : कोटा स्टोन उद्योग को बड़ा झटका, एनजीटी ने रामगंजमंडी में खनन पर रोक लगाई....

महावीर नगर थाने में हजारीलाल मीणा ने 2 जुलाई 2012 को दर्ज करवाई रिपोर्ट में बताया कि उसका भतीजा महावीर एक दिन पहले इटावा से बाइक से कोटा आने के लिए निकला था। अगले दिन उनके परिचित अशोक ने सूचना दी कि महावीर के साथ कोई घटना हुई है। इस पर वह एमबीएस अस्पताल पहुंचा तो भतीजे महावीर का शव मोर्चरी में रखा मिला। हजारीलाल ने रिपोर्ट में बताया कि उसके भतीजे के साथ मारपीट कर हत्या की गई।

Read more : परिजनों ने हत्या की आशंका जताई, पुलिस ने संदिग्ध अवस्था में मौत का मामला दर्ज कर शुरू की जांच...

उसकी बाइक व मोबाइल भी उसके पास नहीं है। इस पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच के बाद इटावा के खैंरदा निवासी मुरलीधर मीणा व गैंता रोड निवासी भैरुलाल बैरवा को गिरफ्तार किया। जांच के दौरान पुलिस ने पाया कि मुरलीधर व महावीर के बीच बाइक को लेकर विवाद हुआ था। उसने महावीर नगर थाना क्षेत्र में एलआईसी बिल्डिंग के पीछे महावीर की नुकीले पत्थरों से वार कर हत्या कर दी और उसकी बाइक व मोबाइल लूट लिया।

Read more : घर में कभी न रखें ये सात मूर्तियां, सुख समृद्धि की हो सकती है हानि...

अदालत में सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से 25 गवाहों के बयान दर्ज किए गए। अदालत ने मुरलीधर को हत्या व लूट का दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा व 70 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित किया। जबकि भैरुलाल को हत्या व लूट के आरोप में दोषमुक्त कर दिया, लेकिन लूट का माल खरीदने के आरोप में 3 साल साधारण कारावास से दंडित किया।

Dhirendra Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned