scriptNarcotics Department: Trouble with opium's CPS scheme | इस 'काले सोने' की नहीं पता कीमत, धरतीपुत्रों की उड़ी नींद.... | Patrika News

इस 'काले सोने' की नहीं पता कीमत, धरतीपुत्रों की उड़ी नींद....

नारकोटिक्स विभाग की अफीम उत्पादन को लेकर नई पद्धति से बढ़ी परेशानी

कोटा

Updated: February 20, 2022 10:29:03 am

रामगंजमंडी. खेतों मे खड़ी अफीम की फसल में खिले हुए फूल डोडियों में तब्दील होने के साथ जहां पटटेधारी किसान खेतों में डेरा डालने की तैयारी में जुट गए वहीं दूसरी तरफ नारकोटिक्स विभाग की ओर से जिन किसानों को सीपीएस योजना में अफीम काश्तकारी की स्वीकृत्ति दी है उनकी दर का निर्धोरण नहीं करने से किसानों की परेशानी बढ़ी हुई है।
इस 'काले सोने' की नहीं पता कीमत, धरतीपुत्रों की उड़ी नींद....
इस 'काले सोने' की नहीं पता कीमत, धरतीपुत्रों की उड़ी नींद....
रामगंजमंडी क्षेत्र में इस बार काफी संख्या में अफीम के पटटे जारी हुए हैं। नारकोटिक्स विभाग ने दो पद्धति से इस बार पटटे का वितरण किया है। ऐेसे किसान जिनका मार्जिन गत वर्ष औसत था उनको चिरणी लगाने की स्वीकृति दी गई है। जो किसान अफीम का औसत गत वर्ष पूरा नहीं कर पाए थे, ऐसे किसानों को सीपीएस योजना में पटटे दिए गए। यह काश्तकार आवंटित आरी के अनुसार खेंतों में अफीम की पैदावार तो कर सकेंगे लेकिन डोडियों में चिरणी लगाकर दूध अफीम, निकालने की इनको स्वीकृत्ति नहीं दी गई है।
सीपीएस योजना के किसानों के खेंतों में नारकोटिक्स विभाग की ओर से चयनित कंपनी के प्रतिनिधि आएंगे। अफीम की डोडियों को जड़ सहित उखाडकऱ ले जाएगे। केन्द्र सरकार के नारकोटिक्स विभाग ने जब पटटे इस प्रणाली से दिए तो पटटेधारियों को कहा था कि एक माह के अंतराल में वह किसानों के खेत से ले जानेवाली अफीम की फसल की राशि का निर्धारण करके उन्हें बताएंग,े लेकिन करीब चार माह होने के बाद भी सरकार की तरफ से ऐसे किसानों की फसल की दर तय नहीं हुई। ऐसे में इन किसानोंं की दिक्तत बढ़ गई है।
पोस्ता किसका तय नहीं

सीपीएस योजना से जुड़े किसानों ने बताया कि मार्च माह की शुरुआत में चिरणी का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। योजना में अफीम का पौधा जब उखाडकऱ ले जाया जाएगा तो उसके अंदर का पोस्ता भी विभाग रखेगा या इसको किसान को मिलेगा यह बात भी तय नहीं है। चित्तोड़ जिले के किसानों ने इस मामले में वित्त मंत्री तक अपनी बात पहुंचाई है।
फायदे की फसल

अफीम की खेती तीन तरफ से काश्तकारों को फायदा पहुंचाती है। डोडियों मे जो दूध निकलकर अफीम में तब्दील होता है उसको नारकोटिक्स विभाग खरीदता है। केन्द्र सरकार की निर्धारित दर से उसकी राशि किसान को मिलती है। इसके अलावा डोडियों मे आने वाला पोस्तादाना निकालकर मंडी में बेचा जाता है जो काफी महंगा बिकता है। तीसरा फायदा काश्तकारों को अफीम की डोडियों की बिक्री से होता है, जिसको ठेकेदार के माध्यम से खरीदा जाता है।
अब डलेगा खेतों में डेरा

फरवरी माह के अंतिम दिनों में पट्टाधारियों के परिवारजनों का जमावड़ा खेतों में जुटना प्रारंभ हो जाएगा। अफीम में चिरणी के समय में किसान परिवार खेत की रखवाली करते हैं। परिवार का भोजन खेत में बनता है। अफीम की डोडियों को नुकसान पहुंचाने वाले पक्षी व तोते डोडियों को नुकसान नहीं पहुंचा सके, इसके लिए बच्चों का समूह उनको उड़ाने में लगा रहता है। यहीं नहीं अफीम में चिरणी लगाने से पहले गणपति की प्रतिमा को खेत मे विराजित किया जाता है। कोई माताजी की प्रतिमा को विराजमान करता है। जिस औजार से अफीम निकाला जाती है उसका पूजन होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.