परेशानी बढ़ा सकती है नई सीवरेज लाइन!

आरयूआईडीपी की ओर से शहर में डाली जा रही सीवरेज लाइन, लोगों ने उठाया सवाल, विज्ञान नगर में फेल हो गई, फिर वही गलती क्यों दोहराई जा रही है?

कोटा. आरयूआईडीपी की ओर से शहर में सीवरेज लाइन बिछाने का काम शुरू कर दिया गया है। बोरखेड़ा व देवलीअरब क्षेत्र की कॉलोनियों में सीवरेज लाइन बिछाई जा रही है। सीवरेज लाइन के पाइपों के आकार को लेकर लोगों ने सवाल उठाना शुरू कर दिया है। इस बारे में अधिकारियों को भी अवगत करवा दिया है।


पूर्व पार्षद जिग्नेश शाह, रूपनारायण यादव, नंदकिशोर नागर ने बताया कि एक-डेढ दशक पहले विज्ञान नगर में भी छह इंची सीवेरज लाइन डाली गई थी, अब विज्ञान नगर में यह स्थिति है कि सीवरेज लाइन चॉक हो चुकी है।

गंदा पानी घरों में भर जाता है। इस समस्या से त्रस्त होकर ही विज्ञान नगर के मकान बेचकर बोरखेड़ा में मकान लिया था, लेकिन यहां भी आरयूआईडीपी ने आठ-नौ इंची सीवरेज लाइन बिछाने का काम शुरू कर दिया है।

उन्होंने सवाल उठाया है कि घर से निकलने वाला सीवरेज चैम्बर ही इससे बड़ा होता है, तो फिर कैसे यह सीवरेज लाइन चल सकेगी। उन्होंने कहा कि जिस समस्या का दंश विज्ञान नगर में झेल रहे थे, वही आने वाले समय में यहां झेलना पड़ेगा। इस बारे में आरयूआईडीपी के मुख्य अभियंता व अधीक्षण अभियंता को अवगत कराया जा चुका है।


सीवरेज लाइन हो गई फेल

भाजपा शासन ने शहर की सीवरेज लाइन को धाकडख़ेड़ी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट से जोडऩे के लिए सीमेंटेड पाइप लाइन बिछाई थी। यह सीवरेज लाइन पूरी तहर फेल हो गई। स्थिति यह है कि इस सीवरेज लाइन में नहर के सीपेज का पानी भरकर बह रहा है, जो रायपुरा नाले में गिर रहा है।

एक्सपर्ट व्यू
घर में भी सीवरेज लाइन 4 से 6 इंच की जाती है। हॉस्टल में बड़ी आकार की सीवरेज लाइन डाली जाती है। विज्ञान नगर, दादाबाड़ी में पहले 9 से 12 इंची सीवरेज लाइन डाली गई थी, लेकिन वह सुचारू नहीं चल पाई। विज्ञान नगर की समस्या सबके सामने है। नई सीवरेज लाइन शहर में सघन आबादी व मकानों को देखते हुए कम से कम 12 इंची बिछाई जानी चाहिए। जब पानी की ही पाइप लाइन एक मीटर चौडा़ई की बिछाई जाती है तो सीवरेज लाइन 9 से 10 इंच की क्यों? सीवरेज लाइन की शुरुआत ही एक मीटर चौड़ी पाइप लाइन से होना चाहिए।

मनोज जैन आदिनाथ, बिल्डर्स

मानकों के अनुरूप ही सीवरेज लाइन बिछाई जा रही है। पहले प्वॉइंट पर ही कम से कम नौ इंची लाइन बिछाई जा रही है। इसलिए कोई समस्या नहीं आएगी।
अशोक कुमार जैन, अधीक्षण अभियंता, आरयूआईडीपी

shailendra tiwari
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned