कोटा में अब छह सेंटरों पर ही लगेंगे कोरोना के टीके

कोटा जिले में 16 जनवरी से कोरोना का टीकाकरण अभियान शुरू होगा। इससे पहले राज्य सरकार ने इसके पूरे प्लान में बदलाव कर दिया। सरकार ने सेशन साइट घटा दिए है।

By: Abhishek Gupta

Updated: 14 Jan 2021, 02:43 PM IST

कोटा. कोटा जिले में 16 जनवरी से कोरोना का टीकाकरण अभियान शुरू होगा। इससे पहले राज्य सरकार ने इसके पूरे प्लान में बदलाव कर दिया। सरकार ने सेशन साइट घटा दिए है। कोटा जिले में अब 12 की जगह 6 सेशन साइट पर वैक्सीनेशन होगा। इसमें 3 शहरी व 3 ग्रामीण सेशन साइट होंगे। 31 जनवरी तक यह बदलाव किया है। सेशन साइट घटाने से दो माह तक हैल्थ वर्कर टीकाकरण कार्य से नहीं निपट पाएंगे। सीएमएचओ डॉ. बीएस तंवर ने बताया कि कोरोना वैक्सीन की खैप गुरुवार को कोटा पहुंच जाएगी। मंडाना बीसीएमओ डॉ. कमल भार्गव को इसकी जिम्मेदारी दी है। एक अतिरिक्त वाहन में वाहन चालक व मेल नर्स की ड्यूटी लगाई गई।

वे एस्कोर्ट के साथ गुरुवार सुबह रवाना हो जाएंगे। उसके बाद उसी दिन वापस लौट जाएंगे। वैन सीधे एएनएम ट्रेनिंग सेंटर पर बनाए गए स्टोरेज पहुंचेगी। पहली खेप में कोटा को 20220 वैक्सीन डोज मिलेगी। इनमें 18680 स्टेट हैल्थ केयर वर्कर व 540 आर्मी हैल्थ वर्कर के लिए होगी। कोरोना वैक्सीन को लेकर 57 कोल्ड चैन सेंटर बनाए है। टीके के दो दिन पहले जिले में खैफ रवाना होगी।

हफ्ते में 4 दिन ही टीका लगेगा
अब हफ्ते में चार दिन ही टीका लगेगा। जनवरी में सिर्फ 16,18,19, 22,23,25,27,30 व 31 जनवरी को ही टीके लगेंगे।

यह रहेगी डोज
कोविशील्ड में एक वॉयल में 10 डोज रहेगी। - कोवैक्सीन की एक वॉयल में 20 डोज रहेगी।

कोटा संभाग जिलों में वैक्सीन की खेप पहुंचेगी
कोटा- 20220बूंदी- 9620बारां-9180झालावाड़-13570

कोटा में दूसरा ड्राई रन पूरा

कोटा. कोरोना वैक्सीन के दौरान खामियां व कमियों को दुरस्त करने के लिए चिकित्सा विभाग की ओर से कोटा जिले में बुधवार को दूसरा ड्राई रन हुआ। 14 सेंटरों पर यह ड्राई रन हुआ। इसमें कोटा शहर में 5 वग्रामीण क्षेत्र में 9 सेंटर बनाए गए थे। जहां सुबह 10 से दोपहर 12 बजे डमी टीकाकरण का कार्य हुआ। इस बार ड्राई रन में 20 हेल्थ वर्कर्स को डमी वैक्सीन लगाई गई। सभी सेन्टरों पर वेरीफेशन से लेकर टीकाकरण व निगरानी की पूरी प्रक्रिया में 40 मिनट का वक्त लगा। लाभार्थियों को टीके बाद निगरानी में 30 मिनट रुकना पड़ा। ड्राई रन की व्यवस्था देखने के लिए चिकित्सा विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. सतीश खण्डेलवाल, सीएमएचओ डॉ. बीएस तंवर, कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रभारी डॉ. अभिमन्यु शर्मा, डॉ. सौरभ शर्मा टीम ने निरीक्षण किया। टीम को एक सेंटर पर सर्वर की गति धीमी मिली। कुछ में ऑरिएंटेशन की कमी रही, लेकिन उसे तुरंत दुरस्त किया गया। गौरतलब है कि इससे पहले कोटा जिले में 9 जनवरी को प्रथम चरण का ड्राई रन हुआ था। जिसमें 25-25 लाभार्थियों का चयन किया गया था।

Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned