फिर खुले चम्बल के सभी बांधों के गेट, बढ़ी चिंता, कोटा बैराज से एक लाख क्यूसेक पानी की निकासी

Suraksha Rajora

Updated: 20 Sep 2019, 07:56:06 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा/रावतभाटा. मध्यप्रदेश से हो रही लगातार पानी की आवक के चलते एक बार फिर शुक्रवार को चम्बल के सभी बड़े बांधों के गेट खोले गए। मध्यप्रदेश सीमा में स्थित गांधीसागर बांध से छोड़े जा रहे पानी से राणाप्रताप सागर बांध में पानी की आवक बनी हुई है। इससे जवाहरसागर बांध व कोटा बैराज के गेट भी एक बार फिर खोले गए हैं। जबकि गुरुवार तक बांधों से एक ही गेट खोलकर पानी की निकासी की जा रही थी।

जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के अनुसार शुक्रवार को गांधीसागर बांध का जलस्तर 1310.04 फीट था। बांध में 25 हजार 612 क्यूसेक पानी की आवक बनी हुई है। जबकि तीन स्लूज गेट खोलकर 78 हजार 110 क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है। वहीं राणाप्रताप सागर बांध के दो गेट खोलकर 72 हजार 472 क्यूसेक पानी की निकासी की गई। बांध में 90 हजार 259 क्यूसेक आवक बनी हुई है। बांध का जलस्तर 1157.27 फीट पर है।

इधर, जवाहर सागर बांध में 1 लाख 10 हजार 904 क्यूसेक पानी की आवक बनी हुई है। बांध का जल स्तर 977.20 फीट है। बांध से 1 लाख 1 हजार 224 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। इसी प्रकार कोटा बैराज बांध का जल स्तर 852.20 फीट है। बांध में पानी की अवाक होने पर सुबह से ही पांच गेट खोलकर 1 लाख 2 हजार 262 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा था। शाम तक पानी की आवक कम हुई तो 65 हजार क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही थी।

बांधों से पानी छोड़े जाने से एक बार फिर लोगों में चिंता बढ़ गई है। पिछले सप्ताह कोटा बैराज से पानी छोडऩे से कोटा में बाढ़ आ गई। इससे दर्जनों निचली बस्तियां जलमग्न हो गई थी। घर के घर बह गए और लोग बेघर हो गए। हालात यह है कि लोगों के खाने तक के लाले पड़े गए है।

गांधीसागर व आरपीएस के पन बिजलीघर में नहीं हो रहा विद्युत उत्पादन

जवाहर सागर बांध के पनबिजलीघर से 9 हजार 180 क्यूसेक पानी निकाल कर विद्युत उत्पादन किया जा रहा है। वहीं गांधीसागर बांध व राणा प्रताप सागर बांध के पन बिजलीघर में बांध से छोड़ा गया पानी घुसने के कारण विद्युत उत्पादन नहीं हो रहा। तीन दिन पहले मुख्य अभियंता मदनलाल शर्मा व अधीक्षण अभियंता जीएस त्रिवेदी ने राणा प्रताप सागर बांध के पनबिजलीघर में घुसे पानी से हुए नुकसान का जायजा लिया था। अधिशासी अभियंता संजय पालीवाल के अनुसार अधिकारी व कर्मचारी पन बिजलीघर को दोबारा चालू करने में जुटे हुए हैं।


Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned