दो साल में मिले ऑक्सीजोन, चम्बल रिवरफ्रंट, कई अंडरपास-फ्लाईओवर

सरकार के दो साल के कार्यकाल में चम्बल नदी पर रिवरफ्रंट का विकास और ऑक्सीजोन की योजना महत्वपूर्ण है। इनके पूरा होने पर कोटा में पर्यटकों के आने की उम्मीद जगी है। चम्बल नदी पर कोटा बैराज से नयापुरा उच्चस्तरीय पुल के बीच दोनों तटों पर रिवरफ्रंट विकसित किया जा रहा है। इसकी परियोजना लागत करीब 700 करोड़ है।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 18 Dec 2020, 09:25 PM IST

कोटा. मौजूदा सरकार के दो साल के कार्यकाल में भले ही कई उम्मीदें पूरी नहीं हुई, लेकिन कोटा शहर के विकास के लिए करोड़ों के प्रोजेक्ट बनाए गए और ज्यादातर कार्य शुरू हो गए। सरकार में कोटा उत्तर के विधायक शांति धारीवाल के नगरीय विकास मंत्री होने का फायदा कोटा को मिला। योजनाओं में चम्बल नदी पर रिवरफ्रंट का विकास और ऑक्सीजोन की योजना महत्वपूर्ण है। इनके पूरा होने पर कोटा में पर्यटकों के आने की उम्मीद जगी है। चम्बल नदी पर कोटा बैराज से नयापुरा उच्चस्तरीय पुल के बीच दोनों तटों पर रिवरफ्रंट विकसित किया जा रहा है। इसकी परियोजना लागत करीब 700 करोड़ है। वहीं राजस्थान पत्रिका की मुहिम के तहत आईएल टाउनशिप की जगह पर करीब 30 हैक्टेयर भूमि पर 112.83 करोड़ की लागत से ऑक्सीजोन विकसित किया जा रहा है।

पशुपालकों के लिए बनी अनूठी योजना
शहर में रह रहे पशुपालकों के लिए ग्राम धर्मपुरा एवं देवरी पुनिया के समीप न्यास की 105 हैक्टेयर भूमि पर एकीकृत आवासीय योजना विकसित की जा रही है। परियोजना की लागत 300 करोड़ है।

इंफ्रास्टे्रक्चर के ये कार्य चल रहे
70 करोड़ की लागत से अनन्तपुरा तिराहे पर फ्लाईओवर का निर्माण हो रहा है। अंटाघर चौराहे पर अंडरपास का निर्माण किया जा रहा है। इस पर करीब 25 करोड़ खर्च होंगे।
एरोड्राम चौराहे पर 50 करोड़ की लागत से अंडरपास एवं अन्य विकास कार्य किए जा रहे हैं।
गोबरिया बावड़ी चौराहे पर अंडरपास का निर्माण किया जा रहा है। इस पर 20.89 करोड़ खर्च होंगे।
जयपुर गोल्डन के समीप 12.06 करोड़ की लागत से पार्किंग सुविधा विकसित विकसित की जा रही है। 15.19 करोड़ की लागत से मल्टीपरपज स्कूल गुमानपुरा परिसर में पार्र्किंग सुविधा विकसित की जा रही है।
इंदिरा गांधी तिराहे पर फ्लाईओवर का निर्माण कार्य चल रहा है, इस पर 55.40 करोड़ खर्च होंगे।
झालावाड़ रोड पर सिटीमॉल के सामने एलीवेटेड रोड का निर्माण हो रहा है। इसकी लागत 46.35 करोड़ है।

उद्यान

नयापुरा स्थित सीवी गार्डन में विकास कार्य किया जाना प्रस्तावित है। इसकी परियोजना लागत 12.88 करोड़ है।

चिकित्सा
महाराव भीमसिंह चिकित्सालय में आधुनिक सुविधाओं से युक्त ओपीडी ब्लॉक का निर्माण किया जा रहा है। इसकी लागत 40 करोड़ है।

जेकेलोन अस्पताल में 30 करोड़ की लागत से 156 बेड की क्षमता का इनडोर ब्लॉक एवं ओपीडी ब्लॉक का निर्माण हो रहा है।

जलापूर्ति परियोजना
श्रीनाथपुरम में नवीन 50 एमएलडी का जल शोधन संयंत्र बन रहा है। 130 एमएलडी परियोजना में अतिरिक्त 70 एमएलडी सुविधा का विस्तार हो रहा है। अकेलगढ़ जल शोधन संयंत्र का नवीनीकरण हो रहा है। इसकी परियोजना लागत 163.38 करोड़ है।

खेलकूद

नयापुरा स्थित जेके क्रिकेट पेवेलियन में इनडोर खेल सुविधाओं को विकसित करने के लिए स्पोट्र्स कॉम्पलेक्स का विकास किया जा रहा है। इसकी परियोजना लागत 25 करोड़ है।

सौन्दर्यीकरण
नयापुरा स्थित विवेकानन्द सर्किल का पुनरुद्धार एवं सर्किल पर स्थित भवनों को विरासत रूप देते हुए सौन्दर्यीकरण का कार्य किया जाना है। इसकी परियोजना लागत 22.37 करोड़ है।

घोड़े वाले बाबा चौराहे का विकास एवं सौन्दर्यीकरण कार्य करवाया जाना प्रस्तावित है। इस पर 13.83 करोड़ खर्च होंगे।
अदालत चौराहे का विकास एवं सौन्दर्यीकरण पर 7.30 करोड़ खर्च होंगे।

Congress
Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned