फिल्म प्रमोशन के लिए बूंदी पहुंचे अभिनेता अरविंद कुमार ; बोले, 'मेरे रोम-रोम में राजस्थान'

फिल्म प्रमोशन के लिए बूंदी पहुंचे अभिनेता अरविंद कुमार ; बोले, 'मेरे रोम-रोम में राजस्थान'

Dhitendra Kumar Sharma | Publish: May, 17 2018 09:06:47 PM (IST) Kota, Rajasthan, India

अरविंद कुमार व राखी सपेरा की मुख्य भूमिका वाली राजस्थानी फिल्म पक्की 'हीरोगिरी' प्रदेश के कई सिनेमाघरो में प्रवेश कर गई है।

बूंदी. राजस्थानी फिल्में भी अब दर्शकों को भाने लगी है। यही वजह है कि
अरविंद कुमार व राखी सपेरा की मुख्य भूमिका वाली राजस्थानी फिल्म पक्की 'हीरोगिरी' प्रदेश के कई सिनेमाघरो में प्रवेश कर गई है। दर्शकों से मिले रेस्पॉन्स से कलाकार उत्साहित है।

Read More: अमृतम् जलम् अभियान : जल संरक्षण के लिए बहाया पसीना

जयपुर , सुमेदपुर, ब्यावर, सहित प्रदेश के कई सिनेमाघरों में फिल्म रिलीज़ होने के बाद बूंदी में रमजान की शुरूआत के साथ ही फिल्मी के प्रमोशन को लेकर मीडिया से रूबरू हुए। राजस्थानी फिल्म राजू राठौड़ की कामयाबी के बाद एक्टर अरविंद कुमार इस फिल्म में भगवान को चुनौती देते दिखाई देंगे। सुनित कुमावत के निर्देशन में बनी राजस्थानी फिल्म पक्की हीरोगिरी की बुनियाद है।

Read More: क्या आप भी नहीं कर रहे हाईकोर्ट के आदेशों की पालना

इस फिल्म में जयपुर के खूबसूरत लोकेशन्स दिखाए गए है। इसकी अधिकतर शूटिंग जयपुर समेत राजस्थान के कई अन्य जगहों पर हुई है। एक्टर अरविंद कुमार ने बताया कि उनकी दिली ख्वाहिश है कि फिल्म के जरिए राजस्थानी कल्चर के लिए अधिक से अधिक काम करुं ताकि दूसरे लोग राजस्थान के गौरव को जाने सकें।

Read More: देश में कोटा बोला, सबसे साफ है हमारा शहर

कलाकारो की धरती है राजस्थान

नच बलिए फेम अरविंद ने कहा कि राजस्थान तो कलाकारों का खजाना है। इसलिए कोशिश यही रहती है कि मेरी फिल्म में ज्यादा से ज्यादा राजस्थानी कलाकारों की फौज नजर आए। राजस्थान की धरती से लगाव पर अरविंद बोले कि मेरी आंखों में राजस्थान बसता है, दिल में उसका गौरव धडक़ता है। सच कहूं तो मेरे रोम-रोम में यहां की धरती की सोंधी महक घुली है। मेरा मकसद भी इस माटी में जीने व उसी में मिलने का है।

भगवान बनना तो आसां है पर, मनुष्य बनना बड़ा कठिन है। फिल्म का नायक(अरविंद कुमार) अपना सब कुछ खोकर नास्तिक बन गया है। उसका भरोसा भगवान की बनाई दुनिया से उठ गया है। एक हादसे में मौत के शिकार नायक का आमना-सामना भगवान से होता है तो कहानी में ट्विस्ट आता है। भगवान कहते हैं कि हम तुम्हें कर्मों के आधार पर स्वर्ग या नरक में भजेंगे। इस दौरान भगवान और नायक के बीच जबर्दस्त तार्किक संवाद होते हैं। नायक कहता है कि भगवान ये स्वर्ग और नरक के फैसले बाद में करना।

Health Tips: रमजान में लें ये डाइट तो महसूस नहीं होगी कमजोरी

भगवान जी पहले आप धरती पर एक बार मनुष्य का जीवन जीकर तो बताओ। तभी अहसास होगा कि स्वर्ग और नरक क्या है। भावनात्मक रूप से भर्राए नायक का यह कहना कि भगवान बनना तो आसां है पर मनुष्य बनना बड़ा कठिन है। दिल में उतरता है।

इन कलाकारों ने किया अभिनय
इस फिल्म में नॉन फैसेज के साथ नए चेहरे भी दिखाई देंगे। इसमें भाभो फेम नीलू, राखी, राजा हसन, वीआईपी, सुरेन्द्र पाल, हितेश, जस्मीन, ध्रुव, निखिल समेत कई अन्य कलाकार अहम किरदार में नजर आएंगे। इस फिल्म की कहानी खुद अरविंद कुमार ने लिखी है और कॉन्सेप्ट विक्की राणा का है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned