पैंथर क्या दिखा....., उलटे पांव दौड़े

जंगल में पेड़ गिरने से बाधित हुई विद्युत आपूर्ति, पैंथर देख भागे कर्मी

 

By: Ranjeet singh solanki

Published: 17 Jun 2020, 11:52 PM IST

रावतभाटा. कुंडाल क्षेत्र में धोलाई के जंगल में मंगलवार देर रात 33 केवी विद्युत लाइन के तारों पर पेड़ गिरने से विद्युत आपूर्ति बधित हो गई। जिसे सही करने पहुंचे चार विद्युतकर्मी एक मादा पैंथर देख कर मौके से भाग छूटे। रात भर विद्युत आपूर्ति बाधित ना हो, इसलिए करीब आधे घंटे बाद सभी विद्युतकर्मी मौके पर गए और पेड़ काट कर विद्युत आपूर्ति बहाल की। विद्युत वितरण निगम के अभियंता नीतेश मालव ने बताया कि मंगलवार 9.30 बजे कुंडाल क्षेत्र में बड़ौदिया की ओर जाने वाली विद्युत आपूर्ति बाधित होने की सूचना मिली थी। टेस्टिंग करने पर लाइन चालू नहीं हुई तो लाइनमैन नरेश मीना, शंकरलाल धाकड़, विनोद अहीर को विद्युत लाइन का जीओ काटकर बड़ौदिया की पृथक से लाइन चालू करने को भेजा था। लेकिन इससे पहले धोलाई व रेनखेड़ा के बीच सेमलिया डूंगर के पास जंगल में विद्युत कर्मियों को 33 केवी लाइन के तार पर पेड़ गिरा दिखा। जंगल में अन्धेरे में वन्यजीवों के आक्रमण का खतरा था। लेकिन विद्युत लाइन चालू करने के लिए पेड़ काटना जरुरी था। इसलिए विद्युतकर्मियों ने ग्रामीणों से कुल्हाड़ी मंगवा कर पेड़ काटना शुरु किया। इस दौरान झाडिय़ों में सर सराहट की आवाज आने पर टोर्च से रोशनी करके देखा तो एक मादा पैंथर दिखाई दी। जिसे देख सभी विद्युत कर्मी मौके से भाग छूटे। रात भर कुंडाल क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति बाधित ना हो, इसके लिए विद्युतकर्मी आधे घंटे बाद दोबारा मौके पर गए और करीब पौने 12 बजे तक पेड़ काट कर विद्युत आपूर्ति बहाल की। अगले दिन बुधवार सुबह जिसे भी घटना की जानकारी मिली। उसने विद्युत कर्मियों की हिम्मत की तारीफ की।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned