स्वच्छ कोटा-स्वस्थ कोटा: पत्रिका की मुहिम से जुडे़ बडे़-बडे़ व्यापारी बोले कोटा को साफ करके ही छोडे़ंगे

कोटा. राजस्थान पत्रिका की 'स्वच्छ कोटा-स्वस्थ कोटा' मुहिम के तहत रविवार को कोटा व्यापार महासंघ की पहल पर क्लीन कोटा बनाने का संकल्प लिया।

By: abhishek jain

Published: 12 Nov 2017, 08:40 PM IST

 

कोटा .

राजस्थान पत्रिका की 'स्वच्छ कोटा-स्वस्थ कोटा' मुहिम के तहत रविवार को कोटा व्यापार महासंघ की पहल पर आरकेपुरम स्थित महावीर मिशन भवन में हाड़ौती ऑफसेट प्रिन्टर्स एसोसिएशन सदस्यों ने क्लीन कोटा बनाने में भागीदारी निभाने का संकल्प लिया। उप महापौर सुनीता व्यास, महासंघ अध्यक्ष क्रांति जैन, महासचिव अशोक माहेश्वरी व जनरल मर्चेन्ट्स एसोसिएशन अध्यक्ष राकेश जैन ने 'स्वच्छ कोटा-स्वस्थ कोटा' की शपथ दिलाई।

हाड़ौती ऑफसेट प्रिन्टर्स एसोसिएशन अध्यक्ष सुमित प्रकाश जैन व सचिव विमल शर्मा ने मुहिम का संदेश देने वाले विशेष डस्टबिन तैयार करवाए। यह डस्टबिन व्यापारियों को बांटे जाएंगे। व्यापारियों ने दुकान का कचरा डस्टबिन में ही डालने की बात कही।

Read More: खेत में जानवर घुसे तो चलाया बम, किसान के हाथ का पंजा उड़ा

 

प्रयास करेंगे तो पूरा शहर जागरूक होगा
माहेश्वरी ने कहा कि स्वच्छता अभियान में प्रत्येक व्यापारियों का सहयोग मिल रहा है। सफाई के लिए जागरूकता आने वाले दिनों में दिखेगी। महासंघ की संबंधित डेढ़ सौ संस्थाओं से शहर के एक लाख व्यापारी जुड़े हैं।

यदि एक व्यापारी दस-दस लोगों को जागरूक करेगा तो पूरा शहर जागरूक हो जाएगा। अध्यक्ष जैन ने कहा कि क्षेत्रीय व्यापार संघों के साथ मिलकर स्वच्छता के लिए जागृति अभियान पूरे शहर में चलाया जाएगा। महासंघ के सलाहकार बोर्ड के निदेशक नरेन्द्र लोढ़ा ने पत्रिका मुहिम की सराहना की। उन्होंने कहा कि सब मिलकर प्रयास करेंगे तो हमारा शहर क्लीन सिटी जरूर बनेगा।

 

Read More: चिकित्सक हड़ताल : सेना के डॉक्टरों से संभाला मोर्चा, मरीजों को मिली राहत



बाधाएं आएंगी, प्रयास जारी रखना होगा

रामपुरा व्यापार संघ के पूर्व अध्यक्ष चेतन जैन ने कहा कि कुछ साल पहले उन्होंने 'स्वच्छ रामपुरा बाजार' अभियान चलाया था। पूरे बाजार में दुकानों का एक जैसा कलर करवाया था। डस्टबिन रखवाने जाते थे तो व्यापारी तैयार नहीं होते थे, लेकिन अचडऩों और बाधाओं के बाद भी अभियान जारी रखा। इसलिए यह अभियान निरंतर जानी रखा जाना चाहिए।

Read More: पदमावती के गुस्से का शिकार हुए राजस्थान वक्फ बोर्ड के चेयरमैन

सीधे सवाल : डिप्टी मेयर का बेबाक जवाब
व्यापारी : वार्डों में पूरे सफाई कर्मचारी नहीं लगते हैं, क्या प्रयास करेंगे?

उप महापौर : सफाई श्रमिकों की बायो मैट्रिक मशीनों से उपस्थिति अनिवार्य की जा रही है।

व्यापारी : नालों और खुली जगह में कचरा डालने वालों को कैसे रोकेंगे?

उप महापौर : ऐसे जागरूकता अभियान के अच्छे परिणाम आएंगे, नहीं तो फिर सख्ती करेंगे।

व्यापारी : कचरा प्वॉइंट पर दिनभर कचरा फैला रहता है?

उप महापौर : जल्द ही दो पारी में कचरा उठाने की व्यवस्था लागू करेंगे।

Show More
abhishek jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned