कोटा. धीरे से गंभीर योग मुद्राएं तो कभी बिजली सी फु र्ती से शरीर के हैरतंगेत करतब और कभी संगीत और हास्य की हिलोरें। योग ऋ षि स्वामी रामदेव के सान्निध्य में भारी उत्साह और उमंग के साथ शहरवासी योग की इन अमृत बूंदों में जम कर नहाए।

 

इन यौगिक क्रियाओं में बालकों से लेकर उम्रदराज लोग भी भागीदार बने। राजस्थान सरकार और पंतजलि योगपीठ के संयुक्त तत्वाधान में आरएसी पुलिस ग्राउण्ड में आयोजित राज्य स्तरीय योग एवं ध्यान शिविर में आज स्वामी रामदेव द्वारा विभिन्न यौगिक क्रियाओं, सूक्ष्म व्यायाम, योगासन, प्राणायाम के साथ योग करवाया गया। इस दौरान विशाल जनसमूह ने स्वामी रामदेव के साथ योगाभ्यास किया।

 

 

स्वामी रामदेव ने कहा कि स्वस्थ और प्रसन्न रहने के लिए योग को जीवन का हिस्सा बनाएं। उन्होंने कोचिंग संस्थानों में अध्ययनरत छात्रों से कहा कि योग से न केवल याद्दाश्त बढ़ती है बल्कि एकाग्रता का स्तर भी बढ़ता है। योग ऋषि स्वामी रामदेव ने इस अवसर पर युवाओं और विद्यार्थियों के लिए विशेष प्राणायाम और यौगिक क्रियाएं करवाईं।

 

उन्होंने कहा कि चतुर्थ अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर कोटा में आयोजित विश्व का यह पहला कार्यक्रम है। जिसमें एक स्थान पर 2 लाख लोग एक साथ योग करके विश्व रिकॉर्ड बना रहे हैं। इस अवसर पर गुरुकुलम और आचार्यकुलम हरिद्वार के विद्यार्थियों द्वारा संगीतमय योगाभ्यास किया गया। इसके साथ ही इन विद्यार्थियों ने मल्लखम के माध्यम से विभिन्न हैरतअंगेज प्रदर्शन भी किए। तड़के 4 बजे से ही योग स्थल पर लोगों आना शुरू हो गया था।

 

बड़ी संख्या में भारी वाहन आने के कारण यातायात व्यवस्था संभालने में अतितिरिक्त बल लगाना पड़ा। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लोगों को अलग-अलग दरवाजों से प्रवेश दिया गया। योग शिविर में कोचिंग विद्यार्थियों की संख्या काफी दिखाई। उल्लेखनीय है कि इस राज्य स्तरीय शिविर के लिए एक माह से तैयारी चल रही है। योग गुरु बाबा रामदेव भी पिछले तीन दिनों से कोटा में ही डेरा डाले हुए हैं।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned