सहयोगात्मक परियोजना : अब डाक विभाग के कार्मिक ये जिम्मेदारी भी निभाएंगे

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली की ओर से डाक विभाग, संचार मंत्रालय व भारत सरकार के साथ जारी सहयोगात्मक परियोजना की फसल क्रियान्विती के लिए कोटा में र्हु बैठक

By: dhirendra tanwar

Published: 16 Sep 2021, 12:22 PM IST

कोटा. राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली की ओर से डाक विभाग, संचार मंत्रालय व भारत सरकार के साथ जारी सहयोगात्मक परियोजना की फसल क्रियान्विती के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कोटा की सचिव अणिमा दाधीच की अध्यक्षता में डाक विभाग के अधिकारियों के साथ एडीआर भवन में बैठक हुई। इसमें डाक विभाग के सहायक अधीक्षक कोटा सुनील राठौर एवं निरीक्षक मनीष जैन उपस्थित रहे।

सहयोगात्मक परियोजना का उद्देश्य डाक विभाग के कार्मिकों एवं डाक सेवकों के सहयोग से समाज के कमजोर वर्ग के लोगों को विभिन्न कानूनों के तहत उनके अधिकारों के बारे में जागरूक कर उन्हें नि:शुल्क विधिक सहायता उपलब्ध कराना, विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा प्रदत्त की जा रही विभिन्न सेवाओं का प्रसार करना तथा ग्रामीण क्षेत्रों एवं दूरस्थ क्षेत्र के लोगों तक विधिक सेवाओं की पहुंच सुनिश्चत करना है।

इस योजना के संचालन के दौरान कोटा जिले में सभी डाकघरों में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आमजन को प्रदत्त की जा रही सेवाओं एवं नि:शुल्क विधिक सहायता के पात्र व्यक्तियों को विधिक सेवाओं की जानकारी के संबंध में कोटा जिले के डाक विभाग के कार्मिकों व डाक सेवक को प्रशिक्षित किया जाएगा। डाक विभाग के कार्मिकों के पास मोबाइल में विधिक सहायता एप भी होगा। वहीं सभी डाकघरों में विधिक सहायता फार्म व मुद्रित लिफाफे उपलब्ध कराए जाएंगे।

dhirendra tanwar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned