12 साल की दलित बच्ची से दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने गए पिता को पुलिस ने धक्के मारकर निकाला, दी गालियां

12 साल की दलित बच्ची से दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने गए पिता को पुलिस ने धक्के मारकर निकाला, दी गालियां

abhishek jain | Publish: Nov, 27 2017 07:33:59 PM (IST) Kota, Rajasthan, India

खानपुर (झालावाड़). कस्बा निवासी एक 12 वर्षीय दलित बालिका को रविवार देर शाम कस्बे के ही एक युवक ने अपनी दरिंदगी का शिकार बना डाला।

खानपुर (झालावाड़).

कस्बा निवासी एक 12 वर्षीय दलित बालिका को रविवार देर शाम कस्बे के ही एक युवक ने अपनी दरिंदगी का शिकार बना डाला। पीडि़ता के माता-पिता दर्द से तड़पती पुत्री के साथ पुलिस चौकी गए तो उन्हें धक्के मार निकाल दिया गया। बाद में थाने गए तो वहां गाली-गलौच की गई। यही नहीं, पुलिसकर्मियों ने कहा कि 'रेप हुआ तो लड़के को फांसी पर चढ़ा दें क्या', पुलिस ने रिपोर्ट तक नहीं ली। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक रात मे वहां मौजूद पुलिसकर्मी शराब के नशे में थे।

जानकारी मिलने पर थाने पहुंचे कस्बे के विभिन्न धार्मिक व सामाजिक संगठन के कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों के हंगामा होने के बाद रविवार रात करीब 10 बजे मुदकमा दर्ज किया गया। मामला तूल पकडऩे के बाद सोमवार दिन में आरोपित कस्बा निवासी विजय राठी (22) पुत्र भंवरलाल राठी को गिरफ्तार किया गया। आरोपित की मां थाने की मैस में खाना बनाती है। ग्रामीणों ने सोमवार को पंचायत कर दो दिन का अल्टीमेटम देकर पूरा थाना सस्पेंड करने और दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। ऐसा न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

 

नशे में था चालक, पुलिस जीप पलटी, पिता का सिर फटा
रविवार रात को पीडि़तों का दर्द अभद्रता पर ही खत्म नहीं हुआ। पीडि़ता को मेडिकल के लिए झालावाड़ अस्पताल ले जाने लगे तो पुलिसकर्मियों के नशे में होने के कारण पुलिस जीप थाने से एक किलोमीटर दूर दहीखेड़ा चौराहे के समीप अनियंत्रित हो बबूल के पेड़ से टकरा कर पलट गई। नशे में चूर पुलिसकर्मी घायलों को निकालने के बजाय वाहन छोड़कर भाग गए। हादसे में पीडि़ता के पिता का सिर फट गया। आसपास के लोग और अन्य वाहनों से साथ चल रहे संगठन के कार्यकर्ता उन्हें खानपुर चिकित्सालय ले गए। उन्हें सिर में 5 टांके लगे। टक्कर इतनी तेज थी कि बबूल का पेड़ टूटकर गिर गया। जीप के कांच व लाइटें टूटी पड़ी थी। बाद में पुलिस उप अधीक्षक विमल सिंह स्वयं की कार से पीडि़ता को झालावाड़ ले गए और मेडिकल कराया।

 

बर्थडे पार्टी के बहाने ले गया
कार्यवाहक थानाधिकारी व सहायक उप निरीक्षक सुरेन्द्रसिंह के अनुसार पीडि़ता ने रिपोर्ट में बताया कि उसके माता-पिता मजदूरी करने गए थे। वह घर पर अकेली थी। उसी दौरान रविवार शाम को कस्बा निवासी विजय राठी (22) पुत्र भंवरलाल राठी उसे बर्थडे पार्टी में चलने की कहकर बाइक से हरिगढ़ ले गया। सुनसान जगह पर उससे दुष्कर्म किया, किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। बाद में उसके घर छोड़ गया। पीडि़ता ने माता-पिता को आपबीती बताई। पुलिस ने मेडिकल के बाद दुष्कर्म व पॉस्को एक्ट मे मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

 

पुलिस बोली- आरोप बेबुनियाद, चालक लाइन हाजिर

जीप पलटने के मामले में चालक को लाइन हाजिर किया गया है। पुलिस उप अधीक्षक विमलसिंह चौधरी ने बताया कि ड्यूटी पर कार्यरत चालक पुलिस कांस्टेबल विजय को लाइन हाजिर किया गया है। अन्य दोषी पुलिसकर्मियों की भी जांच की जाएगी। इधर, थाना पुलिस ने पीडि़तों के आरोप बेबुनियाद बताए। थानाधिरकारी सुरेंद्र सिंह ने कहा कि मेडिकल कराने जाने के दौरान जीप पलट जाने से लोगों में आक्रोश था। किसी तरह की अभद्रता पुलिस ने नहीं की।

 

जांच के आदेश

पुलिस अधीक्षक झालावाड़ आनंद शर्मा का कहना है कि पीडि़ता के थाने पहुंचते ही हैड कांस्टेबल ने रिपोर्ट लिखाने को कहा। लड़का पुलिस में कार्यरत लांगरी का पुत्र है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया। वाहन चालक के शराब सेवन की बात सामने आई है। उसे लाइन हाजिर कर पुलिस उपअधीक्षक को जांच के आदेश दे दिए हैं। डयूटी अफसर पर भी कार्रवाई की जाएगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned