डॉक्टर्स का कार्य बहिष्कार, अस्पतालों में लगी मरीजों की कतार

Rajesh Tripathi

Updated: 16 Nov 2019, 08:18:59 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. मौसमी बीमारियों के इस सीजन में कोटा मेडिकल कॉलेज के तीन सौ रेजीडेंट डॉक्टरर्स ने शनिवार को दो घंटे कार्य बहिष्कार कर दिया। इससे अस्पतालों में चिकित्सा व्यवस्था चरमरा गई। अस्पतालों में मरीजों की कतारें लग गई। मरीजों का घंटों तक नम्बर नहीं आया। थकहाकर मरीज कतारों में बैठकर अपनी बारी का इंतजार करते रहे। शहर में इन दिनों डेंगू, स्क्रब टायफस, मलेरिया व अन्य मौसमी बीमारियां कहर बरपा रही है। इसके चलते अस्पतालों में वैसे पैर रखने की जगह नहीं है। एेसे समय में रेजीडेंट डॉक्टरों के कार्य बहिष्कार से नए अस्पताल, एमबीएस व जेके लोन अस्पताल में चिकित्सा व्यवस्था चरमरा गई। हालात यह रहे कि अस्पताल खुलने पर सुबह ९ बजे से ओपीडी में पर्ची काउंटर, जांच काउंटर, डॉक्टर को दिखाने व दवा काउंटर हर तरफ सिर्फ मरीजों की कतारें ही देखने को मिली। हालांकि सीनियर डॉक्टरों ने कमान संभाली, उन्होंने मरीजों को देखा, लेकिन बावजूद मरीजों को राहत नहीं मिली। कार्य बहिष्कार सुबह ११ बजे खत्म होने के बाद रेजीडेंट काम पर लौटे। उसके बाद मरीजों को देखना शुरू किया।

कोटा जेल के एक और कैदी की अस्पताल में मौत,परिजनों ने लगाया
लापरवाही का आरोप,किया हंगामा

इनकी यह मांगे
रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. सैनी ने बताया कि राज्य सरकार ने सरकारी अस्पतालों में कार्यरत रेजीडेंट डॉक्टरों की पीजी की फ ीस २० गुना बेतहाशा बढ़ोतरी करने, इन सर्विस डॉक्टर की एसआर शिप के कड़े प्रावधान करने, सुरक्षा व्यवस्था के विरोध में रेजीडेंट डॉक्टर ने कार्य बहिष्कार का निर्णय किया है। उन्होंने कहा कि जयपुर में जयपुर एसोसिएशन ऑफ रेजीडेंट डॉक्टर की प्रमुख शासन सचिव रोहित कुमार व शासन सचिव वैभव गालरिया के बीच वार्ता हुई, लेकिन अधिकारियों ने टालमटोल रवैया अपनाया। गूंगी-बेहरी सरकार को मरीजों की कोई परवाह नहीं है। इसके चलते कार्य बहिष्कार जैसा कदम उठाया है। यदि उनकी मांगे नहीं मानी तो १८ से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे।

पुलिस उपाधीक्षक ने की वार्ता
रेजीडेंट डॉक्टर के कार्य बहिष्कार की सूचना पर पुलिस उपाधीक्षक भगवत सिंह हिंगड़ व थानाधिकारी संजय रॉयल एमबीएस अस्पताल पहुंचे। उन्होंने आरडीए अध्यक्ष से मांगों को लेकर वार्ता की।

अगर आप ट्रेन में खाना मंगवाते हैं तो जरूर पढ़ें...क्यों चाय हुई और गर्म, खाने की थाली और भारी

मरीजों की पीड़ा...
पेट में दर्द की शिकायत लेकर एमबीएस अस्पताल आया था, लेकिन तीन घंटे से ओपीडी में डॉक्टर को दिखाने का इंतजार कर रहा हूं, लेकिन नम्बर नहीं आया।
गोपीलाल, इन्द्रगढ़

रेजीडेंट डॉक्टर की हड़ताल के कारण मरीजों को काफी परेशानी हुई। कतार में लगने के बाद डेढ़ घंटे में डॉक्टर को दिखाने का नम्बर आया।
कन्हैया, कोटा

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned