वन्यजीव के प्रति प्रेम, सांभर के सिंग टूटे मिले तो द्रवित हुआ मन...की अपील, मूक जीवों को मिले सुरक्षा

Suraksha Rajora

Publish: Mar, 09 2019 09:22:53 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. हम कब तक इन जानवरों के साथ ऐसा होता देखते रहेंगे। हमें भविष्य के लिए कुछ करना चाहिए इसीलिए मैं यह फोटो आप सभी से शेयर कर रहा हूं आशा करता हूं कि आगे इस खबर को आप आगे शेयर करोगे ताकि इसका कोई इलाज हो सके क्योंकि सड़क के कुत्ते उसके पीछे पड़े हैं वह मुकाबला नहीं कर पा रहा है सींग होते तो शायद वह मुकाबला कर पाता इसलिए कृपया उसकी सुरक्षा के लिए कुछ मदद जरूर करें।

 

दर्द है स्टेशन क्षेत्र के एक वन्यजीव प्रेमी का। घायल वन्यजीव को देखकर वह इतने दुखी हुए कि उन्होंने इसका फोटो वायरल कर दिया और वन विभाग तथा आमजन से इसकी सुरक्षा की अपील भी की।मामला स्टेशन क्षेत्र हाट रोड का है। क्षेत्र में गुरुवार को एक सांभर को स्वस्थ स्थिति में देखा गया था, लेकिन उसी ने इसे शनिवार को देखा तो यह घायल अवस्था में मिला।

 

जैसा कि प्रत्यक्ष दर्शी ने बताया
जैसा कि आप देख रहे हैं पहले फोटो में मैंने परसो (गुरुवार )इस सांभर को अपने हाथ से रोटियां खिलाई थी, तब इसके सिंह बड़े बड़े और खूबसूरत नजर आ रहे थे। लेकिन शनिवार की सुबह यह नजर आया तो उसके दोनों सिंग जड़ से कटे हुए मिले हैं। इसके बड़े घाव देखे गए हैं। उसके शरीर पर भी जगह जगह चोट के निशान हैं। प्रत्यक्षदर्शी ने सांभर के फोटो को वायरल किया है। प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार यह सांभर हाट रोड पर अक्सर टंकी के पास नजर आता है।

 

अनभिज्ञ वन विभाग

स्टेशन क्षेत्र में घूम रहे वन्यजीवों की ओर वन विभाग की नजर नहीं है। गत दो ढाई माह से क्षेत्र में पैंथर व हाइना जैसे बड़े वन्यजीवा के नजर आने की सूचनाएं मिल रही है, इसी दौरान शनिवार को हाट रोड क्षेत्र में एक सांभव को घायलावस्था में देखा गया। प्रत्यक्षदर्शियों ने आशंका जताई है कि किसी ने मूक जीव को घायल किया है। लोगों ने बताया कि क्षेत्र में सांभर अक्सर आ जाते हैं। कुछ लोगों से घुले मिल हैंे।

......

यदि किया घायल तो अपराध

डॉ कृष्णेन्द्र नामा बताते हैं कि सांभर वन्यजीवों की सूची में तीसरी श्रेणी का वन्यजीव है। कोई भी वन्यजीव हो उसे कोई किसी भी तरह से कष्ट देता है तो अपराध की श्रेणी में आता है। उसे सजा व जुर्माना हो सकता है।

खिरें हैं सिंग

इस तरह की सूचना आई थी, लेकिन जिस तरह सांभर की स्थिति बताई जा रही है यह सिंग अपने आप खिरे हैं। किसी के द्वारा चोट पहुंचाने जैसी कोई बात नहीं है।- संजय नागर,ख् क्षेत्रीय वन अधिकारीी लाडपुरा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned