Barsat and Sawan : तेज बरसात से सावन का स्वागत, इन्द्रदेव ने बरसाई खुशियां

-झालावाड़ के कालीसिंध बांध से पानी की निकासी जारी, दो गेट से हो रही पानी की निकासी
-चम्बल के बांधों में पानी की आवक जारी
-जोधपुर में तेज हवाओं के साथ बरसात, अजमेर में भी हुई बरसात

By: KR Mundiyar

Updated: 24 Jul 2021, 09:26 PM IST

-झालावाड़ के कालीसिंध बांध से पानी की निकासी जारी, दो गेट से हो रही पानी की निकासी
-चम्बल के बांधों में पानी की आवक जारी
-मानसून के प्रवेश द्वार कोटा संभाग एवं प्रदेश के अन्य शहरों में बरसात
-जोधपुर में तेज हवाओं के साथ बरसात, अजमेर में भी हुई बरसात
कोटा.
सावन मास की पूर्व संध्या पर प्रदेशभर में मानसून की बरसात ने मेघ-मल्हार गान किया। प्रदेश के कई जिलों में कहीं तेज तो कहीं पर मध्यम दर्जे की बरसात हुई। हाड़ौती के कोटा शहर समेत कई क्षेत्रों में अच्छी बरसात हुई। बीते तीन दिन से मानसून हाड़ौती की धरा पर मेहरबान है। गुरु पूर्णिमा के दिन हुई बरसात से मौसम खुशनुमा बन गया। शनिवार शाम सावन के स्वागत में इन्द्रदेव ने कोटा शहर पर खुशियां बरसाई। शहर के कुछ क्षेत्रों में तेज बरसात भी हुई। इससे सड़कों पर पानी बहा। रविवार को झालावाड़ जिले के पिड़ावा कस्बे में आठ इंच से अधिक बरसात (Heavy Rain ) के बाद चंवली नदी में भी उफान आ गया था। बारां, बूंदी व झालावाड़ जिले के कई क्षेत्रों में अच्छी बरसात हो चुकी है। कोटा के इटावा, सुल्तानपुर, सांगोद, सिमलिया आदि क्षेत्रों में बरसात हुई है। बारां के देवरी में भी शनिवार शाम अच्छी बरसात हुई। झालावाड़ जिले के सुनेल कस्बे में भी शनिवार देर शाम से मूसलाधार बरसात शुरू हो गई। पूरे संभाग में अच्छी बरसात होने के बाद किसानों के चेहरों पर खुशियां छा गई है। कुछ क्षेत्रों में अधिक बरसात के बाद फसलें पानी में डूब जाने से किसान चिन्ता में दिखाई दे रहे हैं। मौसम विभाग की ओर से आगामी दो दिन में प्रदेश के कई जिलों में भारी बरसात की चेतावनी भी दी गई है।


चम्बल के बांधों में पानी की आवक-
मध्यप्रदेश एवं राजस्थान में चम्बल नदी के कैचमेंट एरिया में बरसात का दौर शुरू होने के साथ ही चम्बल नदी पर बने गांधी सागर, राणाप्रताप सागर, जवाहर सागर बांध व कोटा बैराज में पानी की आवक बनी हुई हैं। जल संसाधन विभाग चम्बल के बांधों में पानी की आवक पर नजर बनाए हुए हैं।


बूंदी: गुढ़ा बांध में पानी की आवक
बूंदी के हिण्डोली क्षेत्र के गुढ़ा बांध में सात फीट पानी की आवक हो चुकी है। पानी की आवक बनी हुई हैं। शुक्रवार को तेज बरसात एवं शनिवार तड़के हुई बरसात के बाद बांध में पानी आने से क्षेत्र के लोगों में खुशियां छा गई है। क्षेत्र के कापरेन व नौताड़ा क्षेत्र में भी हल्की बरसात हुई। बूंदी के डाबी क्षेत्र में भी तेज बरसात होने से किसानों के चेहरों पर रौनक छा गई है।


झालावाड़: कई क्षेत्रों में तेज तो कहीं मध्यम बरसात
झालावाड़ जिले में शनिवार को भी बरसात का दौर जारी रहा। कालीसिंध बांध के दो गेट खोलकर पानी की निकासी जारी है। दो गेट तीन मीटर खोलकर 12 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। इसी तरह झालावाड़ जिले के पनवाड़, सोजपुर, भीमसागर, रटलाई, रायपुर सहित कई क्षेत्रों में सावन की पूर्व संध्या पर बरसात हुई। भीमसागर क्षेत्र में कुछ देर के लिए तेज बरसात का दौर चला। जिला कलक्टर हरिमोहन मीना ने शुक्रवार को चंवली नदी में आए उफान के बाद शनिवार को मौके पर जाकर हालात का जायजा लिया।


प्रदेश के कई शहरों में हुई बरसात-
मानसून के प्रवेश द्वार झालावाड़, कोटा, बूंदी व बारां के अलावा प्रदेश के अन्य शहरों व क्षेत्रों में भी इन्द्रदेव की मेहरबानी हो रही है। लम्बे इंतजार के बाद जोधपुर जिले के कई क्षेत्रों में बरसात हुई। जोधपुर के बिलाड़ा, पीपाड़, तिंवरी, सिरोही जिले के पिंडवाड़ा सहित कई क्षेत्रों में बरसात हुई। जोधपुर में आधे घंटे तक झमाझम बरसात के दौरान तेज हवा भी चली। बरसात के बाद शहरवासियों को गर्मी से कुछ राहत मिली है। इसी प्रकार से अजमेर शहर में भी सावन की पूर्व संध्या पर मध्यम दर्जे की बरसात हुई।

मौसम विभाग : भारी बरसात (Heavy Rain) का रेड अलर्ट-
मौसम केन्द्र जयपुर ने रेड अलर्ट जारी कर कोटा, बारां, बूंदी व झालावाड़, अजमेर, टोंक, सवाईमाधोपुर, सिरोही, भीलवाड़ा, राजसमंद, उदयपुर, चितौड़, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, सीकर, झुंझुनूं, अलवर, दौसा, जयपुर, करौली जिलों में कही-कहीं पर मेघगर्जन/व्रजपात की संभावना जताई है। भीलवाडा़, बूंदी, सिरोही, राजसमंद जिलो में एक दो स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। उदयपुर, बारां, झालावाड़, चितौडगढ़़, कोटा जिलों में एक-दो स्थानों पर भारी से अति भारी बारिश (Heavy Rain) होने की संभावना है। प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, डूंगरपुर जिलों में एक-दो स्थानों पर अति भारी से अत्यंत भारी वर्षा होने की संभावना बताई है। नागौर, पाली जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी कर मेघगर्जन/व्रजपात की संभावना है।


कोटा संभाग के पिकनिक स्पॉट पर रौनक-
कोटा संभाग में बरसात का दौर जमने के साथ ही नदी-नालों व रपटों पर पानी बहने लगा है। कुछ जगहों पर झरनों में पानी बहने लगा है। इससे पिकनिक स्पॉट पर रौनक शुरू हो गई है। मौसम का लुत्फ उठाने के लिए लोग पिकनिक स्पॉट जाने लगे है।

Show More
KR Mundiyar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned