शर्मनाक : मृतका की बेटी को फोन कर पूछा,आपका मरीज ठीक हो गया, मिल नहीं रहा

मरीजों के नाम-पते में हो रहे चक्कर-घिन्नी, कोविड अस्पताल में
स्टाफ की फिर लापरवाही उजागर

By: KR Mundiyar

Published: 01 Jun 2020, 12:08 AM IST

कोटा. कोविड अस्पताल में लापरवाही का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। स्टाफ की लापरवाही के रोज नए मामले सामने आ रहे है। दो दिन पहले मरीज की वार्ड में तड़पकर मौत का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ। एक और संवेदनहीनता और लापरवाही का काम कर्मचारियों ने कर दिया। अस्पताल से एक परिवार के पास फ ोन गया, जिनके परिवार में महिला की मौत पहले ही हो चुकी है।

70 दिन से नहीं खुला बाजार, विरोध में व्यापारियों ने दिया धरना

साजीदेहड़ा निवासी नफ ीस ने बताया कि उनकी मां को बुखार की शिकायत थी। उनकी पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी, 22 मई को उनकी मौत हो गई। प्रशासन ने ही अंतिम संस्कार की कार्रवाई की। परिजनों को शक्ल तक नहीं दिखाई गई। 30 मई को अस्पताल से उन्हें फोन आया कि तुम्हारा मरीज ठीक हो गया है, वह कहां है। उसे संदेह हुआ। उसने खुद आज अस्पताल पहुंचकर जानकारी ली। उस समय भी स्टाफ ने कहा कि आपका मरीज नहीं मिल रहा। उसने कहा कि मैंने तो मां को अस्पताल में भर्ती करवाया था। बाद में डॉक्टर्स ने बताया कि उनकी तो 28 मई को मृत्यु हो चुकी है। नफीस ने बताया कि मौत के बाद मां का चेहरा तक नहीं देखा। हमें डेथ सर्टिफिकेट तक नहीं दिया। अस्पताल में आज खुद स्टाफ ने उसने लिखवाया है। अब डेथ सर्टिफिकेट देने की बात कही है।

नहीं मांगे पैसे, अस्पताल की अव्यवस्था बताने
के लिए किया वीडियो वायरल


इनका कहना है

भामाशाह काउंटर पर डिस्चार्ज मरीज शो होता है, लेकिन मृतका अकीला का काउंटर पर डिस्चार्ज शो नहीं हुआ। इस कारण काउंटर कर्मी ने मरीज कन्फर्म करने के लिए फोन कर दिया। उसे महिला की मौत का कारण पता नहीं था।
डॉ. सीएस सुशील, अधीक्षक, नए अस्पताल

Corona virus
Show More
KR Mundiyar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned