scriptSigns of third wave of Corona: Kota hospitals getting ready for compet | कोरोना की तीसरी लहर के संकेत: कोटा के अस्पताल मुकाबले को हो रहे तैयार | Patrika News

कोरोना की तीसरी लहर के संकेत: कोटा के अस्पताल मुकाबले को हो रहे तैयार

प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर के संकेत मिलने शुरू हो गए है। बीते कुछ दिनों से नए कोरोना के केस सामने आ रहे है। इससे चिंता बढ़ गई है। कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबला करने के लिए कोटा कितना तैयार है।

 

कोटा

Published: November 29, 2021 01:15:33 pm

कोटा. प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर के संकेत मिलने शुरू हो गए है। बीते कुछ दिनों से नए कोरोना के केस सामने आ रहे है। इससे चिंता बढ़ गई है। कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबला करने के लिए कोटा कितना तैयार है। क्योंकि कोटा में कोरोना की दूसरी लहर में चिकित्सा व्यवस्थाएं बैकफु ट पर आ गई थी। सरकारी व निजी अस्पतालों में मरीजों को बेड तक नसीब नहीं हुए थे। सबसे बड़ी समस्या ऑक्सीजन व ऑक्सीजन बेड की आई थी। राजस्थान पत्रिका ने कोटा मेडिकल कॉलेज से संबद्ध अस्पतालों की पड़ताल की तो यह व्यवस्था दिखने को मिली।
कोरोना की तीसरी लहर के संकेत: कोटा के अस्पताल मुकाबले को हो रहे तैयार
कोरोना की तीसरी लहर के संकेत: कोटा के अस्पताल मुकाबले को हो रहे तैयार
10 पीजी की सीटें बढ़ी

जेके लोन अस्पताल में शिशु रोग विभाग में 10 पीजी की सीटें बढ़ी है। जबकि पहले 5 ही थे। अब 15 हो गई है।

1 नवजात शिशु रोग विशेषज्ञ लगा
जेके लोन अस्पताल में एक नवजात शिशु रोग विशेषज्ञ (नियोनेटोलॉजी) सुशील गुप्ता ने असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर ज्वाइनिंग दी है। ये 28 दिन के गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती शिशुओं का विशेष उपचार करेंगे। प्रदेश में जयपुर के बाद कोटा में यह पद स्वीकृत हुआ है।
ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट- 24 कुल लगेंगे- 13 लग चुके है- 11 और लगने है

एनएमसीएच: ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट- 130 सिलेण्डर- 130 सिलेण्डर - 60 सिलेण्डर लग चुके- 150 सिलेण्डर का लगना- 20 केएल का लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट लग चुका
एसएसबी ब्लॉक: ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट- 100सिलेण्डर - 90 सिलेण्डर - 150 सिलेण्डर का लग चुका- 3 और लगेंगे।

एमबीएस अस्पताल: ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट- 100सिलेण्डर- 220 सिलेण्डर- 100 सिलेण्डर - 50 सिलेण्डर के लग चुके- 4 जनरेशन प्लांट और लगेंगे- 20 केएल का मेडिकल लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट (2200 सिलेण्डर प्रति क्षमता) लग रहा
जेके लोन अस्पताल: ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट- 100 सिलेण्डर- 220 सिलेण्डर का लग चुका- 150 सिलेण्डर का लगेगा- 2 और 150-150 सिलेण्डर के नए ओपीडी ब्लॉक में लगेंगे

रामपुरा जिला अस्पताल- 150 सिलेण्डर का 1 प्लांट लग रहा
यह होगी ऑक्सीजन बेड की संख्या

कुल संख्या 2220

एनएमसीएच- 432 प्रथम तल पर - 270 द्वितीय तल पर

एसएसबी ब्लॉक- 181

एमबीएस - 750 बेड - 50न्यू ब्लॉक

जेके लोन अस्पताल- 200- शिशु रोग विभाग- 137 गायनिक विभाग
रामपुरा जिला अस्पताल- 100 बेड

ऑक्सीजन कंसटेंटर - 950 कॉलेज के पास- 400 सीएमएचओ के अधीन

एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस- 5 विधायक कोष से नॉर्मल- 3 एसडीआरएफ से वेन्टिलेटर वाली

सिलेण्डरों की संख्या - 1300 सिलेण्डर रिजर्व- ऑक्सीजन कंसटेंटर- 950 मेडिकल कॉलेज के पास रिजर्व- 400 सीएमएचओ को दिए- 270 ऑक्सीजन बेड नए अस्पताल में द्वितीय तल पर तैयार
जिले में 12 सीएचसी पर ऑक्सीजन प्लांट लगे- सीएसआर फंड से सुल्तानपुर, कनवास, मंडाना, मोड़क, ईएसआई अस्पताल- यूडीएच मंत्रालय फंड से कुन्हाड़ी, दादाबाड़ी, विज्ञाननगर, इटावा, सांगोद, कैथून, रामगंजमंडी सीएचसी

सीएचसी व पीएचसी पर ऑक्सीजन कंसटेंटर- 500 पीएम केयर फंड से दिए- 650 आरएमसीएल से दिए- 196 इमरजेंसी में रखे
ऑक्सीजन बैंक स्थापितडीडब्ल्यूसी में ऑक्सीजन बैंक स्थापित किया। यहां से इमरजेंसी में कोविड मरीजों को ऑक्सीजन सिलेण्डर दिया जाएगा।

इनका यह कहना

हम पूरी तरह से तैयार कोविड की तीसरी लहर की आशंका के बीच हम पूरी तरह से तैयार है। बच्चों व अन्य सभी को लेकर सभी अस्पतालों में विशेष व्यवस्था की है। अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था कर दी है। ऑक्सीजन प्लांट कुछ लग चुके है और लग रहे है। पाइप लाइन भी बिछ चुकी है। सैंकड लहर में हमें ऑक्सीजन व ऑक्सीजन बेड की कमी महसूस हुई थी। उसी पर विशेष फोकस किया।
- डॉ. विजय सरदाना, प्राचार्य, मेडिकल कॉलेज कोटा

शहर व गांवों में कोविड की तीसरी लहर को देखते विशेष व्यवस्थाएं की है। जिले की 12 सीएचसी पर ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट लग चुके है। पाइप लाइनों व बिजली कनेक्शन से जोड़ दिया है। इनके उद्घाटन अब करवाएंगे। शेष में ऑक्सीजन कंसंटेटर दिए गए है। ऑक्सीजन बैंक भी स्थापित कर दिया है। घरों में इलाज करवाने वाले कोविड मरीजों को जरूरत पडऩे पर यहां से कंसटेंटर दिए जाएंगे।
- डॉ. बीएस तंवर, सीएमएचओ, कोटा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.