'वन Ó से मिट न जाए ' स्मृतियां Ó

कोटा. अनंतपुरा क्षेत्र स्थित स्मृतिवन अनदेखी का शिकार हो रहा है। इसमें लगाए गए पौधों को मवेशी नुकसान पहुंचा रहे हैं। पेड़ पौधों की सुरक्षा के लिए बनाई गई दीवार जगह जगह से टूटी हुई है। पर्याप्त सुरक्षा के अभाव में लोग अवसर का लाभ उठाकर दीवार से रास्ते बना लेते हैं।कोटा के अनंतपुरा क्षेत्र में मंडलवन स्मृतिवन को विकसित कर रहा है।

 

By: Hemant Sharma

Published: 16 Sep 2020, 09:24 PM IST

कोटा. अनंतपुरा क्षेत्र स्थित स्मृतिवन अनदेखी का शिकार हो रहा है। इसमें लगाए गए पौधों को मवेशी नुकसान पहुंचा रहे हैं। पेड़ पौधों की सुरक्षा के लिए बनाई गई दीवार लम्बे समय बाद भी पूर्ण नहीं हुई है। यह जगह जगह से टूटी हुई है। जानकारी के अनुसार दीवार बना भी दी जाती है तो पर्याप्त सुरक्षा के अभाव में लोग अवसर का लाभ उठाकर दीवार से रास्ते बना लेते हैं।

कोटा के अनंतपुरा क्षेत्र में मंडलवन स्मृतिवन को विकसित कर रहा है। इसमें अब तक विभाग व विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से सैकड़ों पौधे लगाए जा चुके हैं। यहां लोगों ने खास अवसरों पर स्मृतियों के रूप में भी पौधे लगाए हैं। इससे इसमें पशु प्रवेश कर जाते हैं और पौधों को नुकसान पहुंचाते हैं। इससे कई लगाए गए पौधे नष्ट हो गए हैं। लोगों को डार है कि वन में खास अवसरों पर यादगार के रूप मंें लगाए गए पौधे अनदेखी से नष्ट नहीं हो जाएं।


पानी के पर्याप्त नहीं साधन


पेड़ पौधों को सींचने के लिए भी पर्याप्त साधनों का अभाव है। यहां सिर्फ एक बोरवेल लगा हुआ है। क्षेत्र व पेड़ पौधों की दृष्टि से यह अपर्याप्त है। स्मृति वन के क्षेत्र को देखते हुए 5 से 6 बोरवेल होने चाहिएं।


एक समस्या यह भी


दीवार के टूटी होने से लोग शौच के रूप में भी काम लेते हैं। स्मृतिवन सलाहकार समिति के बृजेशविजयवर्गीय बताते हैं कि निगम के सहयोग से क्षेत्र में शौचालयों का निर्माण करवाया जाकर स्मृति वन को सुरक्षित किया जाना चाहिए। कैंपा फंड से स्मृति वन का विकास किया जा सकता है।

विजयवर्गीय के अनुसार यहां 5से 6 हजार पौधे हैं, यदि यही हाल रहा तो इसकी दुर्दशा हो जाएगी। वन विभाग का यह ड्रीम प्रोजेक्ट है। इससे शहवासियों को भी काफी उम्मीदें हैं। सलाहकार समिति की ओर से उपवन संरक्षक व विधायक भरत सिंह को भी पत्र लिखकर अवगत करवाया है।

Hemant Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned