घटना स्थल पर पहुंची कोटा से विशेष टीम, जुटाए साक्ष्य

घटनास्थल पर अयाना और मांगरोल पुलिस पहुंची, तब तक अपराधी वारदात को अंजाम देकर भाग निकले

By: mukesh gour

Updated: 13 Nov 2020, 11:46 PM IST

मांगरोल (बारां)/अयाना (कोटा). बमोरीकलां गांव के पास गुरुवार रात मध्यप्रदेश के रास्ते हुई मारपीट व हत्या की वारदात के बाद शुक्रवार सुबह कोटा से आई एफएसएल, डॉग स्क्वायड तथा जिला विशेष टीमों ने समूचे वन क्षेत्र का मौका-मुआयना कर आवश्यक साक्ष्य जुटाए। एसपी कोटा ग्रामीण शरद चौधरी ने दोपहर बाद घटना स्थल पर कैम्प कर रहे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पारस जैन, इटावा पुलिस उपाधीक्षक शुभकरण खीची, इटावा सीआई मुकेश मीणा अयाना थानाधिकारी राजेंद्र मीणा से जानकारी लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। तीन सदस्यीय मेडिकल टीम ने शुक्रवार को पोस्टमार्टम किया। घटनास्थल मांगरोल व अयाना थाने के बीच अयाना थाना क्षेत्र का है, इसलिए मुकदमा अयाना में दर्ज हुआ। मांगरोल की पुलिस भी इसमें मददगार बनी।

read also : महिला को बाइक से उतार ले गए और चाकुओं से गोदा, मौके पर मौत

चाकू से किया हमला
बीती रात को बमोरीकलां निवासी गोपाल गौत्तम अपनी पत्नी नीलिमा के साथ मोटरसाइकिल से बड़ोदा से गांव लौट रहा था। मध्यप्रदेश सीमा पार करते ही अज्ञातजनों ने दम्पति पर हमला कर दिया। महिला को सड़क से जंगल में ले जाकर चाकू से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी, जबकि पति को घायल कर दिया। शुक्रवार को हुए महिला के शव के पोस्टमार्टम में दो दर्जन से अधिक घाव मिले। गला पूरी तरह रेत दिया था। इस दौरान गोपाल ने योगेश गौतम को मोबाइल पर सूचना दी। योगेश ने श्योपुर से बमोरीकलां के हेड कांस्टेबल व अयाना थानाधिकारी को इसकी सूचना दी। बाद में घटनास्थल पर अयाना और मांगरोल पुलिस पहुंची। तब तक अपराधी वारदात को अंजाम देकर भाग निकले थे।

read also : अपना घर नहीं लेकिन, बीमार पत्नी व चार बच्चों संग 'बंगले' में रह रहा

हमलावरों की तलाश
थानाधिकारी राजेंद्र मीणा ने बताया कि इस मामले में अज्ञात जनों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। महिला के पति का चिकित्सालय में उपचार जारी है। उसके बयानों के आधार पर ही वारदात की विस्तार से जानकारी मिल सकेगी। वारदात का खुलासा करने के लिए पुलिस टीमें विभिन्न पहलुओं पर जांच कर रही है।

read also : ये क्या! ...खुद का कपड़ा और मशीन, त्योहार पर हो गईं गमगीन

पुलिस चौकी पर शव रख धरना दिया
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में पोस्टमार्टम के बाद परिजन व गांववासी बमोरीकलां पुलिस चौकी पर शव को रख प्रदर्शन करने लगे। ग्रामीणों ने धरना देकर मामले की जांच कराने व अपराधियों को नामजद कर जल्द पकडऩे की मांग की। अंता पुलिस उपाधीक्षक जिनेन्द्र जैन, अयाना थानाधिकारी राजेन्द्र मीणा, मांगरोल थानाधिकारी हेमंत गौतम के पहुंचने पर ग्रामीणों ने सूरथाग सड़क पर चल रही अवैध शराब की दुकान बंद करने की मांग की। अधिकारियों के आश्वासन के बाद धरना समाप्त किया गया। स्थानीय पुलिस चौकी के स्टाफ की मौजूदगी में महिला की अंत्येष्टि की गई।

Show More
mukesh gour
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned