कोरोना से मुक्ति के लिए वेदपाठियों ने किया महामृत्युंजय अनुष्ठान

कोटा. रावतभाटा रोड स्थित रामधाम आश्रम पर सोमवार को कोरोना के संक्रमण से मुक्ति के लिए महामृत्युंजय अनुष्ठान का आयोजन किया। आयोजन के तहत आश्रम में संचालित भक्तमाल वेद विद्यालय के 51 बटुकों ने रद्राभिषेक किया व मंत्र जाप किए।

 

By: Hemant Sharma

Published: 28 Dec 2020, 10:21 PM IST

कोटा. रावतभाटा रोड स्थित रामधाम आश्रम पर सोमवार को कोरोना के संक्रमण से मुक्ति के लिए महामृत्युंजय अनुष्ठान का आयोजन किया। आयोजन के तहत आश्रम में संचालित भक्तमाल वेद विद्यालय के 51 बटुकों ने रद्राभिषेक किया व मंत्र जाप किए। आश्रम पर स्थापित चन्द्रमोलेश्वर भगवान का अभिषेक किया।

कार्यक्रम संत लक्ष्मण दास के सान्निध्य में हुआ। इस मौके पर कैथून के जगदेव दास महाराज, राम धाम सेवा आश्रम के ट्रस्टी उपस्थित रहे। इस मौके पर संत लक्ष्मण दास ने कहा कि भगवान शिव संकटों को हरने वाले है। वह जल अर्पित करने से ही प्रसन्न हो जाते हैं। संकट की स्थिति में महामृत्युंजय अनुष्ठान का विशेष महत्व माना गया है। गत महीनों से पूरी दुनिया कोरोना के संकट से जूझ रही है, इससे मुक्ति के लिए अनुठान करवाया गया।

आश्रम ट्रस्ट की ओर से आशीष शर्मा ने बताया कि अनुष्ठान के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा गया। आशीष ने बताया कि मंदिर में पारद शिवलिंग है। अनुष्ठान की दृष्टि से इसका विशेष महत्व माना गया है। इससे पहले आयोजन के प्रारंभ में प्रथम पूज्यगणपति का पूजन किया गया। मंदिर में भी विशेष शृंगार किया गया। आयोजन के दौरान मंत्रों की गूंज से अध्यात्म की लहर चलती रही।

Corona virus
Hemant Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned