स्वामी रामदेव ने कहा कि स्वस्थ और प्रसन्न रहने के लिए योग को जीवन का हिस्सा बनाएं। उन्होंने कोचिंग संस्थानों में अध्ययनरत छात्रों से कहा कि योग से न केवल याद्दाश्त बढ़ती है बल्कि एकाग्रता का स्तर भी बढ़ता है। योग ऋषि स्वामी रामदेव ने इस अवसर पर युवाओं और विद्यार्थियों के लिए विशेष प्राणायाम और यौगिक क्रियाएं करवाईं। उन्होंने कहा कि चतुर्थ अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर कोटा में आयोजित विश्व का यह पहला कार्यक्रम है। जिसमें एक स्थान पर 2 लाख लोग एक साथ योग करके विश्व रिकॉर्ड बना रहे हैं। इस अवसर पर गुरुकुलम और आचार्यकुलम हरिद्वार के विद्यार्थियों द्वारा संगीतमय योगाभ्यास किया गया।

 

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned