बारां जिले का मामला...कैसे प्रधानाचार्य को भारी पड़ गया जबरदस्ती वाला प्यार

शिक्षा निदेशालय बीकानेर के आदेश पर किया रिलीव

By: mukesh gour

Published: 01 Jun 2020, 12:02 AM IST

रायथल/बारां. शिक्षिका को मोबाइल पर अश्लील मैसेज तथा प्यार करने का दबाव बनाने के मामले में रायथल के राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय प्रधानाचार्य विजय सिंह मीणा को शिक्षा विभाग ने निलंबित कर दिया। मामले में पुलिस ने भी जांच पूरी कर ली है। पुलिस अब प्रधानाचार्य के खिलाफ कोर्ट में आरोप-पत्र दाखिल करेगी।

read also : मौसम बिगड़ा तो अधिकारी दौड़े, गेहूं उठाव पर फोकस
मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी रामनारायण मीणा ने बताया कि निलंबन के आदेश शिक्षा निदेशालय बीकानेर ने सीबीईओ की रिपोर्ट के आधार पर शुक्रवार को जारी कर किए थे। ओदश शनिवार को मिला। इसके बाद प्रधानाचार्य को शनिवार को रिलीव कर दिया गया। निलम्बन काल में उसे बीकानेर निदेशालय में उपस्थिति देनी होगी। शिक्षिका ने प्रधानाचार्य मीणा के खिलाफ 10 मई को थाने में परिवाद दिया था। इसके अनुसार प्रधानाचार्य मीणा उसके मोबाइल पर अश्लील मैसेज भेजता है तथा प्यार करने के लिए दबाव बनाता है। वह उसे अवकाश समायोजन का प्रलोभन भी दे रहा है। इससे उसके परिवार में तनाव है। पुलिस द्वारा कार्रवाई नहीं करने पर 16 मई को ग्रामीणों ने स्कूल पर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया था।

read also : ईएमआई जमा करने के लिए बैंक तीन माह और दबाव नहीं बना पाएंगे

मामले की जांंच के जिला शिक्षा अधिकारी ने दो सदस्यीय जांच कमेटी गठित की गई थी। सदस्यों ने स्कूल में पहुंच पीडि़ता समेत अन्य के बयान दर्ज कर रिपोर्ट सीबीईओ को सौंपी थी। सीबीईओ ने इसे निदेशालय को भेज दिया था ।इसके बाद माध्यमिक शिक्षा राजस्थान बीकानेर के निदेशक सौरभ स्वामी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रधानाचार्य के निलम्बित किए जाने के आदेश जारी कर दिए।

Show More
mukesh gour
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned