निगम कर्मचारियों ने दिखाई इतनी फुर्ती कि बना डाला 12 घंटे में कचरा ट्रांसफर स्टेशन

नगर निगम कोटा ने बुधवार को एक ही दिन में बहुत कुछ कर डाला। सिर्फ 12 घंटे में ही थेकड़ा कचरा ट्रांसफर स्टेशन बना डाला।

By: shailendra tiwari

Published: 07 Jun 2018, 02:14 PM IST

कोटा. अपनी सुस्त कार्यप्रणाली को लेकर हमेशा चर्चा में रहने वाले नगर निगम कोटा ने बुधवार को एक ही दिन में बहुत कुछ कर डाला। सिर्फ 12 घंटे में ही थेकड़ा कचरा ट्रांसफर स्टेशन बना डाला। इसके लिए निगम लवाजमे ने अतिक्रमण हटाया, अधिकारियों ने निरीक्षण किया, कार्य के आदेश जारी किए, निर्माण कार्य शुरू करवाया, सीसीटीवी कैमरा लगवाया और उसे आयुक्त के चैम्बर से भी जोड़ दिया।

न्यास अध्यक्ष और विधायक की स्मृति से गायब हुआ 'स्मृति वन'


गुरुवार सुबह 6 बजे से यह स्टेशन शुरू हो जाएगा। यहां 13 वार्डों का कचरा डाला जाएगा। उपायुक्त राजेश डागा अधिकारियों व अभियंताओं के साथ सुबह 9 से रात 10 बजे तक मौके पर खड़े रहकर काम करवाते रहे।


आयुक्त डॉ. विक्रम जिंदल ने थेकड़ा कचरा ट्रांसफर स्टेशन चालू करने के लिए महापौर और उप महापौर से चर्चा की थी। इसमें यह स्टेशन चालू करने पर सहमति बन गई। आयुक्त ने सुबह 11 बजे यहां पहुंचकर कार्य का जायजा लिया। सबसे पहले एक मूर्ति बनाने वाले को हटाया गया।

 

घोषणाएं तो थीं बेहद लुभावनी ,लेकिन हकीकत नीम सरीखी कड़वी


आयुक्त ने बुधवार को ही आदेश जारी कर संबंधित अधिकारियों को आवंटित कार्य शाम तक पूरा कर पालना रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। इसके बाद निर्माण कार्य शुरू करवाया। यहां पहले से मिनी ट्रेंचिंग ग्राउण्ड बना हुआ था। शाम तक तो तीन से चार फीट ऊंची दीवार बन गई। सीसीटीवी कैमरा लग गया, जिसे आयुक्त के चैम्बर से जोड़ दिया गया। आयुक्त देख सकेंगे कितने टिपर आ रहे हैं, कचरा भरकर ला रहे हैं या नहीं, अन्य गड़बडिय़ां भी पकड़ी जाएंगी।

 

पूरा सत्र निकल गया इंतज़ार में पर अभी तक नहीं मिली छात्रवृत्ति


इस दौरान अधीक्षण अभियंता प्रेमशंकर, प्रशांत भारद्वाज, अधिशासी अभियंता महेश शर्मा दिनभर यहां डटे रहे। आयुक्त ने संबंधित अधिकारियों से हर घंटे की प्रगति रिपोर्ट मांगी और उपायुक्त डागा ने इसकी अंतिम रिपोर्ट रात 10 बजे आयुक्त को दी।


इन वार्डों का कचरा आएगा
वार्ड 7, 8, 9, 29, 30, 31, 32, 33, 56,58, 60, 62 तथा 63 के कुल 39 टिपर को रात को यहां शिफ्ट कर दिया गया। वार्डों से यहां कचरा लाकर डम्पर में खाली किया जाएगा। कचरा खाली करने की पर्ची भी दी जाएगी। इसके लिए तीन पारियां में कर्मचारी लगाए गए हैं। आयुक्त ने आदेश में कहा कि यहां से कचरा पूरी तरह ढककर नांता ट्रेंचिंग ग्राउण्ड पहुंचाया जाएगा। प्रत्येक ट्रैक्टर-ट्रॉली व डम्पर को प्रतिदिन आठ चक्कर लगाने होंगे।

 

एक दिन में ये किया
9.00 बजे सुबह पहुंचे अधिकारी व कर्मचारी। सालों से काबिज अतिक्रमण हटाया। 11 बजे सुबह आयुक्त ने किया दौरा। 11.30 बजे जारी किया आदेश। प्रतिघंटे प्रगति रिपोर्ट से अवगत कराने के दिए निर्देश। 3 फीट ऊंची, 40 फीट लम्बी दीवार बनाई गई। 150 सुरक्षाकर्मी मौके पर रहे मौजूद। 1 सीसीटीवी कैमरा लगाकर आयुक्त के चैम्बर से जोड़ा। आज सुबह 6 बजे हो जाएगा शुरू।

Show More
shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned