कोरोना की दूसरी लहर: फिर कोविड केयर सेंटर चालू क्यों नहीं

शहर में दिवाली के बाद कोरोना की दूसरी लहर देखने को मिल रही है। 9 दिन में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा डेढ़ हजार से अधिक पहुंच गया है, लेकिन जिला प्रशासन की ओर से कोविड केयर सेंटर को चालू करने के लिए कोई प्रयास नहीं किए जा रहे है।

 

 

By: Abhishek Gupta

Published: 27 Nov 2020, 01:46 PM IST

कोटा. शहर में दिवाली के बाद कोरोना की दूसरी लहर देखने को मिल रही है। 9 दिन में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा डेढ़ हजार से अधिक पहुंच गया है, लेकिन जिला प्रशासन की ओर से कोविड केयर सेंटर को चालू करने के लिए कोई प्रयास नहीं किए जा रहे है। जबकि संक्रमण की दूसरी लहर में शहर के अस्पताल हाउसफुल हो गए। घरों में आइसोलेट की जगह नहीं बची है। बावजूद कोविड केयर सेंटर को चालू नहीं किया जा रहा है।
दरअसल, जब मार्च में कोरोना ने दस्तक दी थी, तब जिला प्रशासन ने आलनिया स्थित कॅरियर पाइंट यूनिवर्सिटी परिसर में 500 बेड का कोविड केयर सेंटर स्थापित किया था। वहां परिवार के सम्पर्क में आने वाले कम लक्षण वाले संक्रमितों को चिहिन्त कर भर्ती कर उनका बेहतर तरीके से उपचार किया गया था, लेकिन अक्टूबर में संक्रमण कम होने से मरीजों की संख्या में कमी आने से यह सेंटर बंद कर दिया गया। साथ ही परिवारों के सदस्यों की सेम्पलिंग भी बंद कर दी गई। कोविड की सुविधाएं बंद करने से शहर में मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी दिखाई दे रही है।

सीएमएचओ डॉ. बीएस तंवर ने बताया कि शहर के लोग कोविड केयर सेंटर जाना नहीं चाहते और वे घरों पर इलाज करवाना चाहते है। दूसरा कारण, अभी मोडरेट बुखार, सर्दी, जुकाम के मरीज नहीं आ रहे है। सीधे लक्षण वाले पॉजिटिव मरीज मिल रहे है। इस कारण कोविड केयर सेंटर को चालू नहीं किया। यदि कोई प्रॉबल्म आती है तो कोविड केयर सेंटर को चालू कर दिया जाएगा।

260 नए पॉजिटिव मिले, 5 मरीजों की मौत
गुरुवार को 260 नए संक्रमित मरीज मिले है। इनमें आरएसी के एक पुलिस अधिकारी भी शामिल है। बोरखेड़ा अमृत आवास कॉलोनी में एक परिवार के चार सदस्य पॉजिटिव मिले है। इस परिवार में एक सदस्य की बीते तीन दिन पहले तलवंडी स्थित निजी अस्पताल में निधन हो गया। उनकी बाद में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों ने भी अपनी जांच करवा ली। जिसमें चार जने पॉजिटिव आए है।

दिवाली पर मेहमान से मिला कोरोना
छावनी निवासी एक परिवार में दिवाली पर परिचित मिलने आए थे, लेकिन वे पॉजिटिव आ गए। उनके सम्पर्क में आने से इस परिवार के बुजुर्ग की भी परिजनों ने जांच करवा ली। इसमें वे 21 नवम्बर को पॉजिटिव आ गए। वे पहले से किडनी, हार्ट व डायबिटिज के मरीज है। ऐसे में इन बुजुर्ग की दोबारा व तीनों बेटों व पत्नी ने भी जांच करवा ली। जिसमें सभी पॉजिटिव आ गए।

परिवार व पड़ौसी पॉजिटिव...
किशोरपुरा टाउन में एक ही परिवार के पांच जने पॉजिटिव आए है। इनमें पति-पत्नी, दो भानेज व एक पड़ोसी शामिल है। मुखिया गौशाला में कार्यरत है। ये दोबारा पॉजिटिव आए है। इसके अलावा विवेकानंद नगर में पति-पत्नी, संस्कार आरोग्य रायपुरा टाउन व आदर्श कॉलोनी रायपुर में एक परिवार के दो जने पॉजिटिव मिले है।

इनका टूटा दम
कोविड अस्पताल में गुरुवार को उपचार के दौरान लाडपुरा निवासी 58 वर्षीय महिला, रामगंजमंडी निवासी 60 वर्षीय व्यक्ति, स्टेशन निवासी 71 वर्षीय बुजुर्ग व बारां निवासी 57 वर्षीय व्यक्ति व 34 वर्षीय युवक की मौत हो गई।

Abhishek Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned