राजनीतिक उदासीनता व प्रशासनिक लालफीताशाही का शिकार हुआ सीएचसी निर्माण

चेचट कस्बे में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के भवन निर्माण का मामला राजनीतिक उदासीनता व प्रशासनिक लालफीताशाही का शिकार है।

By: Anil Sharma

Updated: 04 Jan 2018, 06:18 PM IST

चेचट.

क्षेत्र की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएंएक साल से स्वास्थ्य केन्द्र निर्माण की फाइल ऑफिसों में घूम रही है। वर्तमान में स्वास्थ्य केन्द्र की फाइल तकनीकी व वित्तीय स्वीकृति के लिए राज्य सरकार के पास गई हुई है। वहां से स्वीकृति के बाद ही मामला आगे बढ़ेगा।
जानकारी के अनुसार मोडक़ रोड पर संस्कृत महाविद्यालय के सामने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के भवन निर्माण के लिए भूमि आरक्षित की हुई है। इसके लिए राज्य सरकार ने चार करोड़ बावन लाख रुपए की वित्तीय स्वीकृति जारी की थी। लेकिन स्वीकृति जारी होने के एक साल बाद भी स्वास्थ्य केन्द्र निर्माण की फाइल एक विभाग से दूसरे विभाग में ही घूम रही है।

Read More: देश की प्रथम शिक्षिका एवं सामाजिक क्रांति की अग्रदूत सावित्री बाई फूले ने जगाई थी बालिका शिक्षा की अलख

भवन बने तो मिलेगी सुविधा
वर्तमान में जिस भवन में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चल रहा है, वहां चिकित्सा कक्षों व स्टॉफ आवास की कमी है। ऐसे में चिकित्सालय में दोपहर बाद चिकित्सक नहीं मिलते और मरीजों को मजबूरन निजी चिकित्सकों की शरण में जाना पड़ता है। प्रस्तावित चिकित्सालय भवन में 30 बेड का वार्ड, एक्सरे मशीन, सोनोग्राफी ,लेब युक्त पूर्ण स्वास्थ्य केन्द्र भवन का निर्माण होगा। स्टॉफ आवास व चारदीवारी का निर्माण भी प्रस्तावित है। नए चिकित्सा भवन के निर्माण से क्षेत्र की जनता को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी।

ब्लॉक सीएमएचओ चेचट प्रदीप फौजदार का कहना है कि भवन निर्माण की प्रक्रिया जारी है। निविदा खोल दी गई है। लेकिन निविदा एक ही एजेन्सी की आने से मामला अटक सकता है। यदि इसमें राजनैतिक या प्रशासनिक आपत्ति नहीं आई तो मार्च तक निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।
सहायक अभियंता कोटा डीके सक्सेना का कहना है कि चेचट सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के भवन निर्माण के लिए निविदा ली गई है। निविदा की फाइल तकनीकी व वित्तीय स्वीकृति के लिए राज्य सरकार को जयपुर मुख्यालय पर भेज दी गई है। स्वीकृति के बाद ही वर्क ऑर्डर जारी होंगे।

Anil Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned