ऐसी कौनसी दवा दी कि दो मासूम हमेशा के लिए सो गए

ऐसी कौनसी दवा दी कि दो मासूम हमेशा के लिए सो गए

Shailendra Tiwari | Publish: Jul, 07 2016 07:50:00 PM (IST) Kota, Rajasthan, India

परिजनों ने चिकित्सक पर लगाया उपचार में लापरवाही का आरोप

कोटा. जेकेलोन अस्पताल में गुरुवार तड़के दो बच्चों की मौत हो गई। परिजनों ने चिकित्सक पर उपचार में लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। सूचना पर नयापुरा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामला शांत करवाया।


बारां जिले के समरपुर निवासी संजय बैरवा ने आरोप लगाया कि उसकी बहन उर्मिला का छह माह का पुत्र नैतिक बीमार था। उसे एक जुलाई को जेकेलोन अस्पताल में भर्ती कराया था। 


गुरुवार तड़के वार्ड में चिकित्सक आया और इंजेक्शन लगाकर चला गया। थोड़ी देर बाद उसकी मौत हो गई। इसी वार्ड में भर्ती केशवरायपाटन निवासी संदीप कुमार के पुत्र तनिष्क को भी इंजेक्शन लगाया। इससे उसकी भी मौत हो गई। 


तनिष्क बुधवार को ही भर्ती हुआ था। दो बच्चों की एक साथ मौत होने पर परिजनों ने अस्पताल में हंगामा कर दिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची तथा परिजनों को शांत करवाया। बाद में परिजन बिना पोस्टमार्टम कराए दोनों बच्चों के शव लेकर चले गए।


उधर, अस्पताल अधीक्षक डॉ. आर.के. गुलाटी ने बताया कि परिजनों का आरोप गलत है। एक बच्चे नैतिक को निमोनिया था। 


खून की कमी थी। इस कारण उसकी मौत हो गई, वहीं तनिष्क गंभीर था। उसका हार्ट कमजोर थी। इसके चलते हम उसे बचा नहीं पाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned