Kota jail...कोटा जेल में दो घंटे चला सर्च अभियान, चप्पे-चप्पे की तलाशी

- अधिकारियों के साथ 100 जवानों ने ली तलाशी

- ऑपरेशन फ्लश आउट के तहत की जांच

By: Ranjeet singh solanki

Published: 22 Apr 2021, 05:54 PM IST

कोटा. केन्द्रीय कारागृह कोटा में गुरुवार को अधिकारियों की निगरानी में सौ से ज्यादा जवानों ने तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान जेल के चप्पे-चप्पे की तलाश ली गई। हालांकि कोई निषिद्ध सामग्री नहीं मिली। राज्य के कारागार महानिदेशक राजीव दासोत की पहल पर चलाए जा रहे ऑपरेशन फ्लश आउट के तहत जेल अधीक्षक सुमन मालीवाल, अतिरिक्त शहर पुलिस अधीक्षक राजेश मील की मौजूदगी में कारागृह की मैन वॉल, छत, ड्यूटी प्रहरी प्वॉइंट, संवेदनशील सुरक्षा बिन्दुओं पर घूमकर निरीक्षण किया और सुरक्षा के संबंध में विशेष बिन्दुओं पर ब्रीफिंग की। तलाशी में उपाधीक्षक श्रवणलाल जाट, आरएसी के कम्पनी कमाण्डर सुशील पूनिया, नयापुरा सीआई भवानीसिंह, कारपाल भंवरसिंह सहित पुलिस जाप्ता, आरएसी जाप्त तथा जेल गार्ड के 100 से ज्यादा जवानों ने सघन तलाशी ली। इसमें बंदियों, बंदीयान, बैरक, उनके सामानों व जेल अस्पताल, पुस्तकालय, खुले परिसर सहित जेल के चप्पे-चप्पे की करीब दो घंटे तक कोविड गाइड लाइन की पालना करते हुए तलाशी ली। तलाशी में आधुनिक उपकरणों एनएलजेडी, एचएचएमडी मशीनों का प्रयोग किया गया। इस दौरान वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी भी करवाई गई। कारागृह की बनावट सुरक्षा दृष्टिकोण से अत्यधिक संवेदनशील होने के कारण बाहरी प्वॉइंट्स पर वॉच टावर बनाना प्रस्तावित किया गया। इसके अलावा जेल में क्षमता से अधिक बंदी होने तथा खूंखार प्रवृत्ति के अपराधियों की संख्या को देखते हुए रिक्त पदों को भरने पर जोर दिया गया।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned