यूडीएच मंत्री बोले, अफसरों का राज खत्म, जनता का राज आ गया

कोटा दक्षिण नगर निगम के महापौर के पदभार ग्रहण समारोह में नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने कहा, सभी पार्षद मिलकर निगम चलाएं। शहर को स्वच्छ रखें। विकास कार्यों में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं किया जाएगा।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 15 Nov 2020, 10:12 PM IST

कोटा. नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि कोटा में नगर निगम चुनाव के बाद अफसरों का राज खत्म हो गया है और जनता का राज आ गया है। अब पहले ज्यादा जल्दी समस्याओं का निस्तारण होगा ऐसी उम्मीद है। उन्होंने रविवार को नगर निगम परिसर में कोटा दक्षिण नगर निगम के महापौर राजीव अग्रवाल के पदभार ग्रहण समारोह में भाग लिया। इस मौके पर पत्रकारों से यह बात कही। वहीं उन्होंने समारोह में महापौर और पार्षदों से कहा कि जनता ने जिस उम्मीदों के साथ आपको चुना है उस पर खरा उतरना है। सभी पार्षदों और महापौर को मिलकर निगम चलाना है। दलगत भावना से उठकर कार्य करें। हर वार्ड में विकास के लिए पर्याप्त धन राशि मिलेगी।

कुर्सी पर बैठने पहले महापौर राजीव अग्रवाल ने अपने कक्ष में सालासर भगवान की तस्वीर स्थापित की। इसके बाद अपनी मां से चरण छूकर आशीर्वाद लिया। मां ने महापौर बेटे से कहा, खुश रहो और ऐसा कार्य करो कि शहर को खुशी मिले। जनता के दु:ख दर्द में काम आओ। ये कुर्सी जनता की सेवा के ही मिली है। इस दौरान उनकी पत्नी और पुत्र भी मौजूद रहे।

महापौर राजीव अग्रवाल ने पद ग्रहण करने के साथ मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि निगम क्षेत्र की समस्त समस्याओं का समाधान किया जाएगा। सभी पार्षद निगम के सदस्य हैं। किसी के साथ भेदभाव नहीं किया जाएगा। सभी को साथ लेकर चलेंगे। निगम में जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र व अन्य कार्यों की प्रक्रिया को सरल किया जाएगा ताकि लोगों को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो। नगर निगम कोटा उत्तर की महापौर मंजू मेहरा ने भी कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने कहा, उनके निगम क्षेत्र में सफाई व्यवस्था पर फोकस रहेगा। कार्यक्रम में भाजपा पार्षद विवेक राजवंशी, गोपालराम मंडा और धीरेन्द्र चौधरी सहित कई पार्षद मौजूद रहे।

BJP Congress
Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned