यूडीएच मंत्री ने देखे बाढ़ प्रभावित गांव

स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने कोटा जिले के गांव खातोली में नुकसान का जायजा लिया। यहां 302 कच्चे और 32 पक्के आवास क्षतिग्रस्त हुए थे। ग्राम सन्मानपुरा गांव के विद्यालय में जाकर प्रभावित परिवारों से मुलाकात की और नुकसान की जानकारी ली।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 21 Aug 2021, 11:41 PM IST

कोटा. स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि राज्य सरकार अतिवृष्टि से प्रभावित परिवारों की सहायता के लिए तत्परता से कार्य कर रही है। सोमवार तक सभी पीडि़त परिवारों के बैंक खाते में मुआवजे की राशि जमा करवा दी जाएगी। स्वायत्त शासन मंत्री शनिवार को इटावा ब्लॉक में बाढ़ प्रभावित गांवों में नुकसान का जायजा लेते समय आम नागरिकों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों में त्वरित राहत कार्य के साथ ही नुकसान का सर्वे कर सहायता राशि प्रदान करने के निर्देश दिए थे। सभी गांवों में सर्वे के आधार पर आवास क्षतिग्रस्त का मुआवजा सीधे बैंक खाते में दिया जा रहा है। फसलों के नुकसान का आंकलन करने के लिए विशेष गिरदावरी कीजा रही है। जिसके आधार पर फसल बीमा योजना में भी नुकसान की भरपाई की जाएगी।

उन्होंने प्रभावित परिवारों से कहा, दु:ख की घड़ी में सरकार उनके साथ है, भोजन एवं आवास की समस्या नहीं रहने दी जाएगी।

गड़बड़ी हो तो कड़ी कार्रवाई करें
धारीवाल ने कहा कि सर्वे में यदि कोई प्रभावित परिवार वंचित रह जाए तो संबंधित तहसीलदार अथवा उपखण्ड अधिकारी को सूचना दे सकते हैं। उनके नुकसान का सर्वे कर सहायता प्रदान की जाएगी। उन्होंने इससे पहले कोटा में बैठक में कलक्टर से कहा, यदि कोई पटवारी या अन्य कर्मचारी सर्वे में गड़बड़ी करे तो कड़ी कार्रवाई की जाए।

क्षतिग्रस्त आवास देखे

स्वायत्त शासन मंत्री ने ग्राम खातोली में नुकसान का जायजा लिया। यहां 302 कच्चे और 32 पक्के आवास क्षतिग्रस्त हुए थे। ग्राम सन्मानपुरा के विद्यालय में जाकर प्रभावित परिवारों से मुलाकात की और नुकसान की जानकारी ली। मौके पर प्रतीकात्मक रूप से रामफूल एवं सियाराम को सहायता राशि के चेक प्रदान किए। सन्मानपुरा में 45 आवास पूर्ण क्षतिग्रस्त एवं 90 आवास आंशिक क्षतिग्रस्त हुए थे। ग्राम बोरदा में हुए नुकसान का जायजा लेते हुए उन्होंने कहा कि सभी क्षतिग्रस्त आवासों का मुवावजा दिलाया जाकर जरूरत पडऩे पर भोजन आवास की सुविधा दी जाएगी। यहां 126 कच्चे मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं, वहीं 171 आवास आंशिक क्षतिग्रस्त हुए थे।

क्षेत्र में 255 करोड़ से होंगे विकास कार्य
स्वायत्त शासन मंत्री ने खातौली में ग्रामीणों से रूबरू होते हुए कहा कि सार्वजनिक संपत्तियों के नुकसान को जल्दी दुरुस्त किया जाएगा। भविष्य में समस्या नहीं हो इसको ध्यान में रखकर विकास कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि ग्राम झरेल के बालाजी में 165 करोड़ की लागत से उच्च स्तरीय पुलिया निर्माण कराया किया जा रहा है। चम्बल ढिबरी से इन्द्रगढ़ वाया इटावा तक 50 करोड़ की लागत से स्टेट हाइवे का निर्माण तथा गोठड़ा से इन्द्रगढ़ तक सडक़ निर्माण पर 40 करोड़ रुपए व्यय होंगे। इस अवसर पर जिला कलक्टर उज्ज्वल राठौड़, महापौर राजीव अग्रवाल और अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned